LOADING

Type to search

ताजा ख़बर

पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान को “टमाटर” भेजने किये बंद, मची तबाही, और हर पाकिस्तानी बोला एक ही बात

Share

Hits: 58

भारत : इन दिनों हर भारतवासी पाकिस्तान को लेकर अपना अपना गुस्सा ज़ाहिर कर रहा है। वैसे देखा जाए तो भारतीयों का यह गुस्सा पाकिस्तानियों के लिए जायज़ भी है। दरअसल, 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों ने भारतीय सुरक्षा सेना यानि सीआरपीएफ की गाड़ी पर विस्फोट से हमला कर दिया। इस हमले में कईं जवाब मारे गए और कईं बुरी तरह घायल हो गए। पुलवामा में गए जवानों की जान की जिम्मेदारी पाकिस्तान के जैश-ए- मोहम्मद नामक आतंकवादी संगठन ने ली, जिसके बाद से ही हर कोई पाकिस्तान की इस करतूत को कोस रहा है और जगह जगह उनके खिलाफ प्रदर्शन कर रहा है।

हमले के बाद मोदी सरकार ने एक बैठक के दौरान पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए उनसे मोस्ट फेवर्ड नेशन का खिताब छीन लिया। इस खिताब को छीनने का सीधा असर पाकिस्तान के व्यापार को प्रभावित कर सकता है। देखा जाए तो अब इस फैसले का असर पाकिस्तान पर दिखने लग गया है। बीते दिनों भारत के कईं किसानों और ट्रेडर्स ने पाकिस्तान को माल सप्लाई करना बंद कर दिया। इसके इलावा पाकिस्तान को भारत से जो भी सामान भेजा जाता तय, उस पर कस्टम ड्यूटी का टैक्स बढ़ा कर 200 फ़ीसदी तक कर दिया गया है।

वहीँ दूसरी और भारतीय किसानो ने अपने उत्पाद पाकिस्तान को भेजने से साफ़ मना कर दिया है।

ख़ास कर मध्य प्रदेश के किसान इस हमले को लेकर काफी संजीदा हो चुके हैं। और उन्होंने पाकिस्तान को टमाटर सप्लाई करने बंद कर दिए हैं। किसानों का कहना है कि, भले ही उनके टमाटर पड़े पड़े सड़ जाए, लेकिन वह इन्हें पाकिस्तान नही भेजेंगे। वहीँ पाकिस्तान में टमाटर के दाम अब आसमान छु रहे हैं।

इस बात की जानकारी एक पाकिस्तानी रिपोर्टर ने अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर दी। पाकिस्तान की जनता के अनुसार वह अब टमाटर की जगह आलू बुखारा और दही इस्तेमाल करेंगे, जहाँ एक तरफ पाकिस्तान में टमाटर के दाम आसमान को छू रहे हैं। और उनके भाव बढ़ कर 180 रुपए प्रति किलोग्राम हो गए हैं। वहीँ दूसरी और भारत में टमाटर के रेट और कम हो गए हैं। अब भारत में 10 रुपए किलो के दाम में टमाटर बेचे जा रहे हैं।

पाकिस्तान को सबसे ज्यादा फल-सब्जियां सप्लाई करने वाली आजादपुर मंडी में व्यापारियों ने वहां माल नहीं भेजने का फैसला किया है। मिली जानकारी के अनुसार अटारी बाघा के रास्ते से रोज़ाना 75 से 100 ट्रक भर कर टमाटर एक्सपोर्ट किए जा रहे थे, लेकिन अब जवानों की मौत ने भारतियों ट्रेडर्स का गुस्सा भड़का दिया है, जिससे नहे टमाटर सप्लाई पूरी तरह से बंद किए जा रहे हैं।

 

बता दें कि, लगभग ढाई हज़ार सीआरपीएफ से लदी गाडिया जम्मू कश्मीर के पुलवामा से गुजर रही थी। तभी उन पर आरडीएक्स से भरी गाड़ी से हमला कर दिया। इस हमले के दौरान 40 से अधिक जवान मारे गए और कईं अन्य बुरी तरह से घायल हो गए जिनका इलाज अभी भी अस्पताल में चल रहा है।

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Vandana Singh

वंदना सिंह को पत्रकारिता का 10 साल का अनुभव है

    1
WhatsApp chat