Press "Enter" to skip to content

क्या करें । क्या न करें ? किसान खेती करने के साथ-साथ 70% kisan करते हैं ये गलतियां कहीं आप भी तो नहीं कर रहे हैं ये गलतियां

Hits: 654

नमस्कार किसान भाइयो आज हम बात करेंगे उन छोटी मोटी गलतियों की जो किसान भाई अनजाने में कर लेते हैं। लेकिन किसानों का नुकसान आगे जाकर बहुत बुरा होता है। और वो कर्ज में डूब जाते हैं। इस परेशानी से गुजरते हुए वे अपना कृषि कार्य छोड़ देते हैं। या फिर नुकसान उठाते हैं। किसान की उन्नति में जो सहायक कार्य होते हैं जिससे किसान की आमदनी बढ़ती हैं और अधिक लाभ मिलता है आज हम उन विषय पर चर्चा करेंगे। किसान क्या-क्या अनजाने में गलतियां करते हैं और क्या करें जिससे हमारी आमदनी अधिक बड़े।
में इस विषय पर क्रमबद्ध तरीके से आपको बता रहा हूँ।
(1) घर पर ही खेती में उगाने के लिए बीज तैयार करें :-
दोस्तो हमारे देश के लगभग सभी किसान भाई अलग अलग बाजारों से खेत में उगाने के लिए महगे से महगा बीज लेकर आते हैं लेकिन फिर भी इन बीजों में खेत में उगने के बाद अलग अलग तरह की वैरायटी देखने को मिलती है। इससे किसान को नुकसान का सामना करना पड़ता है।किसानों को अधिक फायदा हो इसलिए वे बाजारों से कई किस्म के बीज लेकर खेत में बोते हैं जैसे कि हम hybrid बीज बोते हैं ताकि हम अच्छी पैदावार ले सकें ठीक है ! पर क्या देखा जाये तो बीज को पैदा किसान ही करता है। तो फिर आप अधिक पैसा देकर अपना नुकसान क्यों करते हैं।
अगर किसान तरीके से थोड़ी सी अधिक मेहनत करे तो खुद बीज तैयार कर सकता है। बो भी hybrid बस आपको ये छोटी-छोटी बातें याद रखनी होंगीं।
*बीज के लिए फसल को समय पर पर्याप्त पानी और खाद दें।
*जब फसल खेत में खड़ी हो उस समय खेत में अनचाहे पौधे यानि जो अलग प्रकार के होते हैं इनको निकल दें। जैसे गेहूं में जो पौधे अलग प्रकार के होते हैं उनकी पहचान अलग होती है या वो अलग ही दिखाते हैं। बो अन्य पौधों से बड़े या छोटे होते हैं रंग में भी उनका कलर अलग दिखाई देता है ऐसे पौधों को उखाड़ के पशुओं के डाल दें।
*इसके बाद जब फसल पक कर तैयार हो जाये तब भी उसमें किसी दूसरी प्रजाति का बीज न मिले।
*बीज को किसी मशीन या जाली से कुवालिटी बाले बीज अलग करें उसमें से खराब,कमजोर व् मरे हुए बीज अलग करें।
*बीज को नए पैकिट में भर कर उस पर नाम लिखकर रख दें।
(2) पशु पालन करें:-
मित्रो किसान के लिए सबसे महत्वपूर्ण होते हैं वो हैं पशुधन जैसे गाय,भैंस,बकरी,वैल आदि ये सब कृषि आय को बढ़ाते हैं इन पशुओं से हमें गोबर मिलता है जो हमारी खेती के लिए बहुत ही उपयोगी होता है इसके अलाबा दुधारू पशु से हमें रोजाना दूध बेचने से हमारी दिन भर की इनकम बढ़ती है। मान लो आप सुबह शाम 10 लीटर भी दूध बेचते हैं तो लगभग 300 रुपए प्रतिदिन और महीने के 9000 रूपये यानि एक साल में 1 लाख 8 हजार की आपकी अतिरिक्त आय हो जाती है। इसके आलावा आपके परिवार को शुद्ध घी,दूध,छाछ मिलती है और खेतों के लिए खाद भी फ्री में मिल जाता है। और पशुओं के लिए चारा खेतों की मेड और फसलों की सुखले से ही मिल जाता है और आपके यहां जितना भी गोबर होता है उसे फेकें न उसको अपने खेतों में डालें ताकि आपके खेत में उर्बरा शक्ति से फसल में वृदि हो।
(3) खुद खाद तैयार करें :-
सभी किसान अपने ही घर पर खाद को तैयार करें जिससे आपके पैसे बच सकें। जैसे गोबर को हम अपने खेतों में डालें जिससे गोबर जैविक खाद में बदल जाये और खेत में उर्वरा शक्ति को पैदा करे।
(4) सब्जियों की खेती करें:-
मित्रो यदि आप प्रतिदिन की आमदनी और बढ़ाना चाहते हैं तो आपको सब्जियों की भी खेती करनी होगी। जिसे आप रोजाना बेचकर अच्छी
आमदनी प्राप्त कर सकते हैं। जैसे मटर, भिड़ी, तोरई, लौकी,धनियां,करेले पालक, मिर्च आदि बेचकर बहुत से किसान रोजाना 1000 रुपये से अधिक आय ले रहे हैं।
(5) पशु आहार बनायें :-
किसान भाइयो जो अनाज जैसे गेहूं, सोयाबीन, जौं, उड़द, चना, जो हमारी असावधानी के कारण खराब हो जाते हैं उन्हें हम पशु आहार बना सकते हैं। और हरे चारे को रिजर्व करके पशु आहार बनाया जा सकता है।
(6) फल बाले पौधे लगाएं :-अगर आपके खेत में जहां भी खाली जगह या खेत की मेड़ों पर बरसात के मौसम में फलों के पेड़ लगा सकते हैं जैसे आम, नीबू, सीताफल, संतरा,अमरुद, अनार, आदि जिन्हे कम पानी पिला कर भी फसल ले सकते हैं। इससे और आमदनी बढ़ाई जा सकती है।
सभी किसान भाई नई तकनीक का प्रयोग करें परम्परागत तरीके से आमदनी अधिक नहीं हो पाती है। इसलिए आप जहां भी कृषि मेला या कृषि अधिकार से खेती के बारे में सलाह लें

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Comments are closed.

WhatsApp chat