Press "Enter" to skip to content

सब्जी की खेती करने वाले किसानों पर सरकार हो रही हैं मेहरबान। किसान स्टोर बनाये सरकार देगी 90 फीसदी तक सब्सिडी

Hits: 1178

सब्जी की खेती करने वाले किसानों पर सरकार हो रही हैं मेहरबान। किसान अपना स्टोर बनाये सरकार देगी 90 फीसदी तक सब्सिडी

सब्ज़ी और फलों की खेती करने वाले किसानो के लिए अच्छी ख़बर आ रही है। 1 सरकारी योजना के तहत किसानो को खुदका स्टोर खोलने के लिए सरकार देगी 90% सब्सडी। सरकार ने घोषणा की है कि किसान अपना खुदका स्टोर खोले पैसा सरकार  देगी।

कैसे मिलेगी सब्सिडी
इसके लिए किसानों को कंपनी एक्ट के तहत फार्मर प्रोड्यूसर ऑग्रनाइजेशन (एफपीओ) बनाना होगा। एफपीओ बनाने के लिए हर किसान को 1000 रुपये की फीस देनी होगी और कम से कम 2.5 एकड़ जगह होनी चाहिए। सरकार के एक्शन प्लान को 3 करोड़ 31 लाख से बढ़ाकर 5 करोड़ 49 लाख रुपये कर दिया हैं।

फतेहाबाद जिले में करीब 10 हजार हैक्टेयर भूमि पर सब्जी व फल उत्पादन होता हैं। जिसमें करीब 400 हेक्टेयर में टमाटर, 500 में आलू, 800 में फूलगोभी व 450 हेक्टेयर में प्याज की खेती होती हैं। अकांवाली गांव में टमाटर, माजरा में आलू, जांडली, भूना में किन्नू के साथ-साथ अनेक गांवों में एक ही किस्म की सब्जी व फलों की खेती होती हैं।

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

                                                  महिला किसान

कैसे सब्सिडी देगी सरकार, क्या होंगे उनके कदम
किसानों को ओपन पॉलीनेडिट बीज तैयार करने के लिए प्रेरणा दि जायगी। ऐसे में विभाग द्वारा एक ही तरह का उत्पादन करने वाले गांवों को अलगदर्जे में रखने के लिए करोप कलस्टर डवलपमेंट प्लान (सीसीडीपी) बनाएगा। फतेहाबाद जिले में 7 कलस्टर बनेंगे। पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर 50 हेक्टेयर के किसानों को बीज तैयार करने के लिए प्रति एकड़ 4900 रुपये सब्सिडी मिलेगी।

                                                    सब्ज़ी और फलों की मंडी 

कब तक कर सकते हैं आवेदन
इसके लिए किसान आवेदन कर सकते हैैं। कलस्टर मे शामिल किसानों को आने वाले 3 साल तक पैक हाउस, नेट हाउस, बंबू स्टेकिंग जैसी अलग-अलग तरह की योजनाओं में प्राथमिकता मिलेगी। 3 साल खत्म होने के बाद नए किसानों के कलस्टर को ये सुविधाएं मिलेगी।

कंपनी एक्ट के तहत किसान एफपीओ बनाकर खुद की फसलें बेच सकेंगे। साथ ही बीज तैयार करने पर सब्सिडी मिलेगी। इसके लिए सरकार किसानों की मदद करेगी। -डॉ. श्रवण बराड़, जिला बागवानी अधिकारी

ख़बर के अंत में फेसबुक बॉक्स दिया गया है, जिस पर आप इस ख़बर के बारे में अपनी राय दे सकते हैं। आपसे अनुरोध है कि इस ख़बर को ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कीजिए।

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

3 Comments

  1. Are you researching to get more attention for your undertaking?

    Most small business owners are! Do you ever feel like the “best kept secret” on the earth?
    You have a great service to offer but very not everybody know
    about you have to.

    Direct traffic right now, I would submit up five article directories.
    So, searchwarpdotcom, goarticlesdotcom, ezinearticlesdotcom, articlesbasedotcom, easyarticlesdotcom,
    weenodotcom when they still taking articles.

    Yes there are plenty of of writers out there that create content tips people, or clients, and submit them
    on their behalf. However, no is actually knowledgeable about every little thing.

    Meaning if they try to write an article about a subject they know nothing
    about, and also come out as garbage, and what Google would
    rather call scrape content. Systems work efficiently yourself a favor, and
    do your research before .

    Article submission can be pretty tiring sometimes, or perhaps take hours to
    obtain the articles from the top article directories,
    however you can easily get content pages submitter software and permit do function for you with comfortableness.

    Press Releases: When was the last time your business did something newsworthy?
    Your own personal have for you to become groundbreaking within the does should also be
    something that provides value to the people you want to get
    prior to. Are you offering something new that changes the way they trade?
    Do you have a cool product that guide them you can? Is
    your company volunteering within a community project that advantage your neighborhood?
    All of these things are newsworthy! Once you’ve written your press release you can submit it to
    sites like BusinessWire or PRNewswire – Using distribution sites like this not only save you time but in addition helps you purchase your news
    published instantly!

    Writing individual personal articles is the best approach to create content for article submission sites and
    your own websites. However, content articles are to
    employ out your article writing efforts and then sure in order to own 100%
    rights to your articles you get. Because if you don’t own the rights,
    then dress yourself in article will probably to start showing up within the place several names associated with byline.

    The more articles you write, better. There are
    tons of publishers who have thousands of articles
    written and that get huge sums of traffic to
    their website because of this. You too can get website traffic like this if you keep focus inside your business and could write new content
    per day.

    You can submit articles to the top article directories with a connection in the resource box
    linking in order to your site with the keyword their link,
    where other publishers can download your article (with your resource box intact on pain of death!)
    and get the ‘link juice’ from that website as definitely. https://kasino.games/home/mega888/50-mega888

  2. Like!! Thank you for publishing this awesome article.

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

WhatsApp chat