फलों के राजा आम ने बना दिया 1 आम किसान को सचमुच का राजा, अब कमा रहे है लाखों

ताजा ख़बर

फलों के राजा आम ने बना दिया 1 आम किसान को सचमुच का राजा, कमा रहे है लाखो

सहारनपुर जिले के मरवा गांव के बागवान करुण कुमार गुरेजा ने आम के बागीचों से अपनी तरक्की तो की ही साथ-साथ पूरे गांव के किसानों कि भी मदद की। उन्होंने किसानों को आम की उन्नति वाली खेती के बारे में बताया और आम की अच्छी क्वालिटी के बारे में भी जानकारी दी।

कैसे शुरू हुआ आम आदमी का आम सफ़र 
जयपुर के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चर मार्केटिंग से पढ़ाई कर उन्होंने बागों में एक्सपोर्ट क्वालिटी के आम पैदा कर एक्सपोर्ट करने की ठानी।
आज के समय में मरवा गांव के लगभग 40% किसान आम से लाखों रुपये कमा रहे हैैं।

खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई चीजें सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।

                                                                मैंगो मैन 

विदेशी पैसों के साथ-साथ मिली इज़्जत
मरवा गांव के बागवान करुण कुमार गुरेजा ने आम कि अच्छी जानकारी हासिल करके ना केवल विदेशी पैसा भारत में निर्यात करवाया बल्कि भारत के आम को 1 दर्जा हासिल करवाया। हम सब जानते हैं कि भारत में अच्छे किस्मो के आम की पैदावार हैं लेकिन मार्केट में कम और विदेशो में ज़्यदा एक्सपोर्ट किया जाता हैं।

टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

बागवान करुण कुमार गुरेजा ने 70 टन आम का एक्सपोर्ट कर जहां विदेश में नवाब ब्रांड का डंका बजाया, वहीं विदेशी पैसा भी खूब कमाया हैं। उन्होंने अमेरिका, आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और जापान के सामने भारत के आमों को अच्छा और बेहतर साबित किया।

साल 2018 में सहारनपुर जिले से करीब 121 टन आम का एक्सपोर्ट किया गया। 70 टन आम का योगदान मरवा गांव से एक्सपोर्ट किया गया। उन्होंने अपने बागों से दशहरी, लंगड़ा और चौसा आम का कई देशों में एक्सपोर्ट किया, जो अपने-आप में एक कठिन चुनौती थी।

 

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

                                                          आम का बाग़ 

 

क्या हैं इनका बागवानी का तरीका
करुण ने पहले बाग कि मिट्टी की जांच करवाई और रिपोर्ट के आधार पर खाद और माइक्रोन्यूटे्रंट का प्रयोग किया। आम को कीटों से बचाने के लिए जापान और कोरिया से बैग मंगाए। ये बैग आमों पर लगाए। इससे आम कीट-फंगस से बचा रहता है।

                               कवर किये हुए आम की रक्षा का तरीका 

एक्सपोर्ट में लागत और फायदा
करुण कुमार के अनुसार आम को विदेश भेजने में उनको करीब 200 रुपये प्रति किलो का खर्च आया। इसमें 35 से 40 रुपये किलो आम, करीब 100 रुपये भाड़ा, 20 रुपये पैंकिग और 22 रुपये प्रोसेसिंग शुल्क शामिल हैं।

आम आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में 360, अमेरिका में 400 से 450 और जापान में 500 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बिका। उन्हें मंडी परिषद की ओर से 26 रुपये किलो के हिसाब से फायदा मिला। इसमें 13 रुपये ब्रांड प्रमोशन और 13 रुपये मंडी का किराया हैं।

सेलेब्स के नाम पर आमों नाम
नमो (मोदी) आम
ऐश्वर्या आम
सचिन आम
अखिलेश आम

 

                                                    सेलेब्स के नाम पर आमों नाम

एक्सपोर्ट वाले आम की प्रोसेस

एक्सपोर्ट के लिए आम को डंडी सहित तुड़ाई होती है। इसके बाद मंडी समिति के मैंगो पैक हाउस में उसे प्रोसेस किया जाता है। पहले आम का चेप निकालने के लिए करीब दो घंटे तक आम को उल्टा रखते हैं।

इसके बाद मशीन से उसकी वाशिंग कर ग्रेडिंग होती है। फिर उसे वैपर हीट ट्रीटमेंट (वीएचटी)से गुजारते हैं। अमेरिका के लिए आम का रेडिएशन भी होता है। इस प्रोसेस के समय भारतीय और एक्सपोर्ट किये जाने वाले देश के एक्सपर्ट्स भी मौजूद रहते हैं।

ख़बर के अंत में फेसबुक बॉक्स दिया गया है, जिस पर आप इस ख़बर के बारे में अपनी राय दे सकते हैं। आपसे अनुरोध है कि इस ख़बर को ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कीजिए।

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

 

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Hits: 1097



खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।



टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

181 thoughts on “फलों के राजा आम ने बना दिया 1 आम किसान को सचमुच का राजा, अब कमा रहे है लाखों

  1. Pingback: Google
  2. Pingback: Google
  3. Pingback: liteblue
  4. Pingback: iptv 2 devices
  5. Pingback: porn
  6. Pingback: testo adagio
  7. Pingback: rental cars
  8. Pingback: hundekurv flet
  9. Pingback: nipple chain
  10. Pingback: beegbbw
  11. Pingback: bombshell dildo
  12. Pingback: onewalmart
  13. Pingback: walmartone
  14. Pingback: Bluechew reviews
  15. Pingback: Don Juravin
  16. Pingback: boite outlook
  17. Pingback: Free Funding
  18. Pingback: maxbet indonesia
  19. Pingback: Att.net Mail
  20. Pingback: Googlemail
  21. Pingback: viagra
  22. Pingback: hasta karyolası
  23. Pingback: سکس نیمه
  24. Pingback: jockstrap
  25. Pingback: couples sex toys
  26. Pingback: cock rings
  27. Pingback: MIDE-675
  28. Pingback: xxx
  29. Pingback: mp3 download
  30. Pingback: Roulette System
  31. Pingback: one walmart
  32. Pingback: hosting
  33. Pingback: ssni 550
  34. Pingback: pppd 780
  35. Pingback: glass dildo
  36. Pingback: anal sex kit
  37. Pingback: anal plug set
  38. Pingback: Cum on Tits
  39. Pingback: buy follower
  40. Pingback: Ghana Music
  41. Pingback: reddit ama
  42. Pingback: penis growth
  43. Pingback: anal douches
  44. Pingback: sexy sex outfits
  45. Pingback: virtual Product
  46. Pingback: video downloader
  47. Pingback: cawd 008
  48. Pingback: buttplug porn
  49. Pingback: boy jockstraps
  50. Pingback: credit card buy
  51. Pingback: laptop app
  52. Pingback: کوس
  53. Pingback: loan repayment
  54. Pingback: bullet toy
  55. Pingback: ginger dank
  56. Pingback: Buy exotic carts
  57. Pingback: exotic carts pen
  58. Pingback: Letter of demand
  59. Pingback: Packwoods
  60. Pingback: lose weight
  61. Pingback: MEYD 525
  62. Pingback: Cool t shirts
  63. Pingback: 618media.com
  64. Pingback: blog
  65. Pingback: p spot
  66. Pingback: Fintech
  67. Pingback: Buy exotic carts
  68. Pingback: Macys Insite
  69. Pingback: gay briefs
  70. Pingback: sex restraints
  71. Pingback: bondage kit
  72. Pingback: IPX-363
  73. Pingback: invest bitcoin
  74. Pingback: gay bum cleaning
  75. Pingback: SEO Vancouver
  76. Pingback: PPPD-792
  77. Pingback: HUNTA-653

Comments are closed.