गर्लफ्रेंड को फूल देने के चक्कर में शुरु किया फूलों का कारोबार, गर्लफ्रेंड तो चली गई लेकिन कारोबार हो गया सेट, 5 हजार से शुरुआत वाले बिहारी बाबू की आज है 150 करोड़ की कमाई

ताजा ख़बर
हर मर्द जीवन में एक बार कभी ना कभी तो गर्लफ्रेंड या पत्नी को कम से कम एक बार तो फूलों को गुलदस्ता देकर या तो प्यार का इजहार करता है या फिर प्यार जताता है।
लेकिन कभी फूल देते समय सोचा है कि इन्हीं फूलों के गुलदस्ते से कोई व्यक्ति अरबपति भी बन सकता है। मानो या ना मानो लेकिन यह सच है और आपने भी उस ब्रांड को जरूर देखा होगा।
जी हां, हम बात कर रहे हैं Ferns N Petals की जिसके मालिक की अरबपति बनने की कहानी में खेत में उगने वाले फूल और गर्लफ्रेंड है।
इस अरबपति का नाम है विकास गुटगुटिया। बिहार के रहने वाले गुटगुटिया की पिछली कहानी जानने से पहले जरा आज के दौर में उनकी सफलता को आंकड़ों की नज़र से देख लें
1. बिहारी बाबू यानी गुटगुटिया का आज के दौर में कारोबार 1 अरब 50 करोड़ रूपए का है।
2. दुनिया के दर्जनों देशों में उनका कारोबार फैल चुका है।
3. देश भर में Ferns N Petals नाम से फूलों के शोरूम बने हुए हैं जो फ्रैंचाइजी आधार पर खोले जाते हैं। 90 से अधिक शहरों में यह स्टोर्स हैं।
4. इस कारोबार से लाखों किसानों को खेत में फूलों की पैदावार कर जबरदस्त कमाई का मौका मिलता है।




कौन है यह कारोबारी
  1. विकास गुटगुटिया बिहार के एक मध्यम वर्ग (Middle) परिवार से हैं, जो आज देश के नामी कारोबारियों में से एक हैं।
  2. बिहार में स्कूलिंग करने के बाद कॉलेज की पढ़ाई करने कोलकाता गए, जहां उन्होंने बिजनेस की छोटी-छोटी बारीकियां सीखी
  3. कोलकाता में पढ़ाई करने के बाद विकास दिल्ली आए और यहीं से 24 साल की उम्र में इनके कारोबार का सफर शुरू हुआ।
  4. विकास ने सन् 1994 में दिल्ली में सिर्फ 5 हजार रूपये से Fern N Petals नाम से फूलों का कारोबार शुरू किया।
  5. Fern N Petals आज के समय में भारत में फूलों का कारोबार करने वाली सबसे बड़ी कंपनी है।
  6. कंपनी की सालाना कमाई 150 करोड़ रुपये है।
  7. दुनिया के कोने-कोने में इस कंपनी के बने गुलदस्ते और गिफ्ट शादी, पार्टियों में जाते हैं।
गर्लफ्रेंड के वजह से कैसे की फूलों के कारोबार की शुरूआत
विकास के इस कारोबार को शुरूआत करने की कहानी काफी दिलचस्प है। दरअसल, 1994 के दौर में विकास अपने कॉलेज की दोस्त मीता से प्यार करते थे। एक बार विकास ने मीता के जन्मदिन पर उन्हें फूलों का एक गुलदस्ता किसी से भिजवाया। जब विकास मीता के जन्मदिन की पार्टी में पहुंचे तो विकास ने देखा कि उनका गुलदस्ता काफी बिखरा हुआ है, इसमें फूल भी अच्छे नहीं हैं।
इसे देख विकास ने सोचा कि क्यों ना दिल्ली में ही फूलों का कारोबार शुरू किया जाए। उस समय विकास के पास सिर्फ 5,000 रुपये थे और इसी से उन्होंने फूलों का गुलदस्ता बनाने का कारोबार शुरू किया। इस दौरान उनके एक दोस्त ने उन्हें 2.5 लाख रुपये दिए।
विकास ने बहुत रिसर्च करने के बाद दिल्ली के साउथ एक्सटेंशन में Ferns N Petals (फ़र्न्स एन पेटल्स) नाम से फूलों की एक होल सेल दुकान खोली और यहां से दिल्ली के बड़ी-बड़ी दुकानों में फूलों की सप्लाई करने लगे।




खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई चीजें सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।

कैसे बढ़ा फूलों का इतना बड़ा कारोबार

टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

शुरूआती दौर में विकास का कारोबार इतना अच्छा नहीं था लेकिन 1997 में अचानक विकास के कारोबार की काया ही पलट गई। साल 1997 में विकास को दिल्ली के ताज होटल पैलेस में एक शादी समारोह को सजाने का काम मिला। विकास के लिए यह काफी बड़ा प्रोजेक्ट था, इस काम से उन्हें 50 लाख रुपये मिले, जिसके बाद से उनके कारोबार को ऊंचाईयां मिलने लगीं।

1997 के बाद विकास का कारोबार ऊंचाईयों की सीढ़ियां चढ़ने लगा और उन्हें उनके नाम से जानने लगे। इसके बाद विकास ने अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए काम करने के तरीके को बदला। काम को बढ़ावा देने के लिए विकास कोलकाता और पश्चिम बंगाल के अच्छे-अच्छे कारीगरों को दिल्ली लेकर आए और उन्हें सजावट के काम में लगा दिया। इसके बाद विकास के पास दिल्ली के बड़े-बड़े फ्लॉवर डेकोरेशन के प्रॉजेक्ट आने लगे।




Fern N Petals नाम से खोला डिजाइनर स्कूल

 

 

विकास गुटगुटिया ने दिल्ली में ही Ferns N Petals (फर्न्स एन पेटल्स) नाम से एक डिजाइन स्कूल खोला। इसके साथ-साथ देश के कई राज्यों में अपना कारोबार बढ़ाने के लिए कई शहरों में Ferns N Petals स्टोर खोला है। वहीं, 2002 में फूलों की ऑनलाइन डिलिवरी भी शुरू की।

किसानों से डील

 

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

कंपनी ने इस बीच फूलों की बढ़ती मांग को देखते हुए Contract पर भारत और अफ्रीकी देशों में किसानों से डील करके फूलों की खेती करवानी भी शुरु की, जिससे कंपनी को तो कमाई हुई ही साथ ही किसानों को भी जबरदस्त कमाई होने लगी। आज देश में हजारों किसान फूलों की ही खेती से करोड़ों कमा रहे हैं।

 

नोट –
1. अगर आप वॉट्सअप पर ख़बर पाना चाहते हैं तो आपके मोबाइल या लैपटॉप स्क्रीन के राइट में नीचे कॉर्नर में WhatsApp का Logo दिख रहा होगा। उस पर सिर्फ क्लिक कर दें। क्लिक करते ही हमको आपका मैसेज मिल जाएगा और आपको वॉट्सअप पर ख़बरें आना शुरु हो जायेंगी।
2. अगर आप ज्यादा लोगों को WhatsApp Group से जोड़ सकते हैं तो यहां क्लिक करें 
Tag:  Vikaas gutgutia ne kaise ki Ferns N Petals ki shuruaat

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Hits: 1787



खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।



टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

4 thoughts on “गर्लफ्रेंड को फूल देने के चक्कर में शुरु किया फूलों का कारोबार, गर्लफ्रेंड तो चली गई लेकिन कारोबार हो गया सेट, 5 हजार से शुरुआत वाले बिहारी बाबू की आज है 150 करोड़ की कमाई

Comments are closed.