1 एकड़ में गुलाब की खेती करवाती है हर महीने 2.5 लाख रूपए की कमाई, जानें लागत कितनी है और कैसे होती है इसकी खेती

कैसे करें ताजा ख़बर
फूलों का राजा गुलाब जिसकी खूबसूरती और रंगों के लोग दिवाने हैं। भारत में फूलों के खेती की लोकप्रियता देश की तेजी से बढ़ती जनसंख्या की रफ्तार से बढ़ रही है। इसकी लोकप्रियता की कई वजहें हैं।
  1. पहली वजह है मोटा मुनाफा
  2. दूसरी वजह है देश में हर साल होने वाली 1 करोड़ शादियों में गुलाब की भारी डिमांड
  3. तीसरी वजह है Ferns n Petal जैसे बड़े ब्रांड्स जो सिर्फ और सिर्फ फूलों को बेचते हैं। Ferns n Petal फूलों की बिक्री से ही हर साल 1 अरब 50 करोड़ रूपए का बिजनस करता है।
ऐसे में आज kisankhabar.com इस खूबसूरत फूल की खेती के बारे में बताने जा रहा है। गुलाब की खेती कैसे करें इसके बारे में step to step जानकारी हम देने वालें हैं इसलिए पूरी खबर को अच्छे से पढ़िए।-
गुलाब की खेती की अच्छी बातें




  1. गुलाब का पौधा एक ऐसा पौधा है जिसे एक बार लागाने पर 7 से 15 साल तक लागतार कमाई की जा सकती है।
  2. अगर कमाई की बात करें, तो सिर्फ 1 बीघा में ही गुलाब की खेती से हर महीने 40 से 50 हजार आसानी से कमा सकते हैं।
  3. इसे सालभर में थोड़ी बहुत देखरेख की आवश्यकता होती है।
गुलाब की खेती में लागत और कमाई
    1. 10 हजार वर्ग फुट यानी एक बीघा के पॉलीहाउस में गुलाब का पौधा लगाने से लेकर पॉलीहाउस तैयार करने तक 16 लाख रुपये की लागत आती है।
    2. इसकी देखरेख के लिए हर महीने 8 हजार से 10 हजार रुपये खर्च होते हैं।
    3. प्रतिदिन 400 से 500 गुलाब आसानी से मिल जाते हैं।
    4. साधारण मंडी में प्रति नग गुलाब की बिक्री 3 रुपये से 5 रुपये होती है। वहीं खुदरा मार्केट में प्रति नग 10 रुपये होती है।
    5. अगर 400 रूपए प्रति दिन के उत्पादन को 5 रूपए प्रति नग के हिसाब से मंडी में बेचे तो रोजाना 2000 हजार रुपए की कमाई होती है यानी महीने के 30 दिन में 60 हजार रूपए की कमाई।
    6. अगर अधिक कमाई खुदरा मार्केट में बेचने से आपको होगी जो 1 लाख 20 हजार से लेकर 1 लाख 50 हजार तक आसानी से हो सकती है।
गुलाब की खेती करने से पहले यह तय कर लेना चाहिए कि गुलाब की किस वैरायटी की खेती करनी है, क्योंकि गुलाब की 13 हजार वैराइटी होती हैं। इसलिए पहले ये पता कर लें कि आपके क्षेत्र में किस वैरायटी के पौधे अच्छा उत्पादन देंगें।
गुलाब को निम्न वर्गों में बांटा जा सकता है
 




खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई चीजें सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।

  1. हाइब्रिड टी रोजेज़ (Hybrid tea roses) – इस वर्ग के गुलाब की आकृति और रंग काफी सुंदर होते हैं।
  2. फ्लोरिबुंडा (Floribunda )- फ्लोरिबुंडा वर्ग के गुलाब सभी वैरायटियों में काफी  रंगीले होते हैं।
  3. ग्रैंडीफ्लोरा (Grandiflora)- ग्रैंडीफ्लोरा वर्ग के गुलाब हाइब्रिड टी और फ्लोरिबुंडा के मिलेजुलेवर्ग होते हैँ। यानि ये रंगीन होने के साथ साथ काफी आकर्षक होते हैं। इसके एक ही तने से गुलाब के बहुत सारे गुच्छे लगे होते हैं।
  4. आरोही गुलाबों (Climber roses ) वर्ग के गुलाब दीवारों पर बेल की तरह चढ़ने वाले होते हैं।
  5. मिनिएचर गुलाब (Miniature roses) वर्ग के गुलाब जटिल और छोटे होते हैं। यह बर्तनों में लगाने के लिए सबसे अच्छा होता है।
  6. श्रब और लैंडस्केप गुलाब (Shrub and landscape roses) काफी मजबूत और कीट तथा रोगों के प्रतिरोधी होते हैं। ये कई रंगों, आकृतियों और आकारों में आते हैं।
  7. ट्री गुलाब (Tree roses) वे गुलाब होते हैं जिन्हें लंबे तने के लिए ग्राफ्ट किया जाता है ताकि वे पेड़ की तरह दिखाई दें। इन गुलाबों को गुलाब की कुछ अन्य की प्रजातियों की तुलना में ज्यादा देख-रेख की आवश्यकता होती है।
गुलाब की वैरायटी का निर्णय करने के बाद यद निर्णय करना पड़ता है कि आप पौधे को किस तरह से लगाना चाहते हैं ।
पौधे लगाने की दो विधि होती है
 
      1. सीधे जमीन पर-  जमीन में गुलाब की जड़ों को वसंत ऋतु (फरवरी मार्च और अप्रैल) में लगाना चाहिए ताकि उन्हें मौसम गरम होने से पहले अपनी जड़ों को विकसित करने का पर्याप्त समय मिल सके।
      2. बर्तन में- बर्तन में लगे गुलाबों को सर्दियों के दिनों में अंदर रखा जा सकता है और उसके बाद वसंत ऋतु में उन्हें बाहर रखा जा सकता है।
गुलाब के पौधे लगाने के लिए मिट्टी और जमीन का चयन
  1. गुलाब के पौधे लगाने के लिए ऐसी जमीन का चुनाव करना होगा जहां दिनभर में कम से कम 6 घंटे धूप मिले।
  2. मिट्टी ढीली होनी चाहिए और उसमें एक अच्छा ड्रेनेज होना चाहिए।
  3. मिट्टी का पीएच (pH) 6.3-6.8 होना चाहिए इससे गुलाब का अच्छा उत्पादन होता है।
  4. मिट्टी गीली होनी चाहिए लेकिन पानी का जमाव नही होना चाहिए।

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

 

कैसे लगाएं गुलाब पौधा
  1. गुलाब के पौधों को गुलाब को टीले के ऊपर रखें। फिर दोबारा गड्ढे को वापस मिट्टी से भर दें।
  2. गुलाब के पौधों का मिलाप जमीन की सतह से 2 इंच (5 सेमी) नीचे होना चाहिए।
  3. किसी ठंडे क्षेत्र में रहते हैं तो आपको गुलाब को और ज्यादा गहराई में लगाना पड़ेगा ताकि वे कम तापमान में भी सुरक्षित रह सकेंI
  4. यदि आपके पास बर्तन में लगा हुआ गुलाब है तो गड्ढे में लगाने से पहले उसके जड़ों में लगी हुई मिट्टी को झाड़ कर निकाल दें।
  5. सुनिश्चित करें कि जड़ के चारो ओर मिट्टी मजबूती से लगी हुई है और उसे बाद उसे हाथों से दबाएँ ताकि यदि उसमें हवा के कुछ पाकेट्स हों तो वो निकल जाएँ।
गुलाब के पौधे की सिंचाई
  1. गुलाब के पौधे को भरपूर सिंचाई की जरूरत होती है।
  2. इसलिए गर्मियों में गुलाब के पौधों की दो बार सिंचाई की आवश्यकता होती है। गर्मियों में पौधे की मिट्टियों को सूखने नही देना चाहिए
  3. सर्दियों में एक बार रोजाना सिंचाई की आवश्यकता होती है।
गुलाब के पौधे में खाद
गुलाब के पौधे पूरी तरह से विकसित हो जाए तो गर्मियों के मौसम में एक बार खाद देना चाहिए ताकि फूलों की अच्छी पैदावर हो। जैविक खाद गुलाब की खेती के लिए सबसे अच्छा है इसलिए कोशिश करें कि गुलाब के पौधों में जैविक खाद ही डालें।
  1. गौमूत्र से बने खाद
  2.  बकरी के गोबर और मूत्र से बने खाद गुलाब की वृद्धि के लिए अच्छा होता।

 

गुलाब के पौधों की छंटाई
सर्दियों के अंत में एक बार पौधों के सूखे डंडियों की छंटाई कर देनी चाहिए। इससे फूलों की पैदावर अच्छी होती है। इसके बाद गर्मियों में डेड हेड्स (deadheads), जो खिलने के बाद मृत हो गए हों उसकी छंटाई कर देनी चाहिए।
नोट –
1. अगर आप वॉट्सअप पर ख़बर पाना चाहते हैं तो आपके मोबाइल या लैपटॉप स्क्रीन के राइट में नीचे कॉर्नर में WhatsApp का Logo दिख रहा होगा। उस पर सिर्फ क्लिक कर दें। क्लिक करते ही हमको आपका मैसेज मिल जाएगा और आपको वॉट्सअप पर ख़बरें आना शुरु हो जायेंगी।
2. अगर आप ज्यादा लोगों को WhatsApp Group से जोड़ सकते हैं तो यहां क्लिक करें – 
Tag: Gulab ki kheti kaise karein

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Hits: 1598



खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।



टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

2 thoughts on “1 एकड़ में गुलाब की खेती करवाती है हर महीने 2.5 लाख रूपए की कमाई, जानें लागत कितनी है और कैसे होती है इसकी खेती

Comments are closed.