Press "Enter" to skip to content

कद्दू दिलाता है कैश – होती है किसान की ऐश, आधा किलो बीज और आधा एकड़ खेत से होता है एक सीजन में डेढ़ लाख का शुद्ध मुनाफा।

Hits: 20374

कद्दू उन फसलों में से एक है जिसे कैश यानी नकदी वाली फसल माना जाता है। इधर फसल मंडी पहुंची, उधर किसान की जेब में केश आया। लेकिन मध्य प्रदेश के एक किसान ने तो भटके हुए किसानों को बहुत ही अच्छी राह दिखाई है।

आज का किसान इस चक्कर में है कि कहीं कोई कॉन्ट्रेक्ट वाली खेती मिल जाए, तो बस साल में एक ही फसल करो और बाकी समय आराम करो। लेकिन मध्य प्रदेश के रिंगनोद में आने वाले भीलखेड़ी गांव के किसान राजबहादुर सिंह ने सिर्फ आधा किलो बीज से ही कमाल कर दिया।

राजबहादुर के पास 3 बीघा खेत है। इसमें उसने सिर्फ 500 ग्राम कद्दू का बीज डाला। 2 महीने के अंदर ही उनकी फसल तैयार हो गई। उनके खेत में कद्दु के फल दिखने लगे। कद्दु के एक फल का वजन 20 से 60 किलों का था। जब बाजार में इस कद्दु की कीमत लगी तो खर्चा निकालकर राजबहादुर की जेब 1.5 लाख रुपये के मुनाफे से भर गई। ध्यान रहे कि राजबहादुर ने ये कमाई सिर्फ 3 बीघा यानी करीब आधा एकड़ से ही की है और वो भी सिर्फ 2 से 2.5 महीने में।




 

कद्दु की खेती की खास बातें

  1. कद्दु की फसल को 20 से 30 डीग्री तापमान की जरुरत होती है। इसलिए फरवरी, मार्च, अप्रैल या मई में कद्दु का बीज बोया जाना चाहिए।
  2. कीटों के हमले से फसल को बचाने के लिए खेत में एक बोरी पोटाश, 2 लीटर मोला दवाई, 1 बोरी DAP और सुपर फॉस्फेट का छिड़काव करना जरुरी है।
  3. कद्दू की फसल को 5 से 6 सिंचाई की जरूरत होती है।
  4. प्रति हेक्टेयर 7 से 8 किलों बीज काफी होते है।
Tag ; kaddu ki kheti kaise hoti hai, kaddu ki kheti se faayda, kaddu ki kheti main kamai, kisan rajbahadur singh from madhya pradesh




Facebook Comments

Facebook Comments

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WhatsApp chat