नमक बता देता है कि बीज खराब है या अच्छा, बीज को लगाएं पल्स पोलियों की तरह टीका और पाएं रोगमुक्त बीज, Step by Step पूरी विधि जानें।

इलाज कैसे करें ताजा ख़बर नई तकनीक

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

अक्सर आपने देखा होगा कि आप बीज बाजार से खरीद कर लाएं और खेती में बो दिया। अब फसल तैयार होने के बाद पता चला कि कहीं पर फसल ज्यादा आई और कहीं पर कम। ऐसे में आमतौर पर आप किस्मत को ही दोष देते हैं। जबकि इसमें आपके ज्ञान की कमी ही असली कारण हैं। या यूं कहें कि आप बाजार से बीज लेकर आए, लेकिन दुकानदार ने बीज खराब दे दिया।

खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई चीजें सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।

बोने से पहले ही आप पानी और नमक के घोल से पता कर सकते हैं कि बीज खराब या अच्छा।

टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

दरअसल जिस तरह से आप अपने बच्चे को समय समय पर पोलियो समेत कई बीमारियों से बचाने के लिए कई टीके लगवाते हैं, उसी तरह से आपके बीजों को भी टीके लगाने की सख्त जरूरत होती है ताकि फसल ज्यादा अच्छा आए।




Kisankhabar.com आज आपके बीजों को घर पर ही टीका लागने के आसान तरीके लेकर आया है।

बीज को रोगमुक्त (Disease free) करने की जरूरत क्या है।

अगर आप चाहते हैं कि आपके खेत से सोना निकले यानी ज्यादा पैदावार हो, कम लागत आए, अच्छी क्वालिटी की फसल हो, फसल को कीड़ों से कम से कम नुकसान हो, तो आपके अपने बीज को रोगमुक्त करना बहुत ज्यादा जरूरी है। इसके कई और फायदें है, जो नीचे दिए गए हैं।




  1. अगर आप बीज को स्टोर (भंडार) में रखना चाहते हैं तो बीज को टीका लगाना जरूरी है। इससे भंडार करने पर जो रोग बीज को लगने का खतरा होता है वो खत्म हो जाता है।
  2. जिस बीज का टीका लगा होता है वो बोने के बाद मिट्टी के अंदर रहते हुए अच्छे से विकसित होता है।
  3. जिन बीजों को टीका लगा होता है उनकी बाहरी परत पर कीड़ों का हमला होने पर कम असर होता है। इसका फायदा ये होता है कि बीज का अंकुरण यानी बीज से पौधा अच्छे से निकलता है।
  4. जो किसान सब्जी उगाते हैं, कपास और छोटे दाने वाली फसलों की खेती करते हैं, उनके लिए बीज को टीका लगाने से फायदा ही होता है।

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”1200″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

बीज को टीका लगाने या बीजोपचार के आसान तरीके 

  1. नमक का घोल – एक बड़े बर्तन में 1 लीटर पानी में 20 ग्राम नमक मिलाकर उसका घोल बना लें। जिन बीजों को आप खेत में बोने वाले हैं, उनको इस घोल में डाल दें। जो बिज रोगी होगें या अच्छी क्वालिटी के नहीं होंगे, वो नमक के घोल में ऊपर तैरने लगेंगे और अच्छे बीज बर्तन के तले में नीचे बैठ जायेंगे। ऊपर तैरते हुए बीज को बाहर निकाल कर अल्ग रख दें और अच्छे वाले नीचे के बीजों को साफ पानी से दोकर सुखा लें। इसके बाद इन अच्छे बीजों को कीटनाशकों और फफूंद की बिमारियों से बचाने वाली प्रक्रिया का पालन करें और अंत में खेत में बो दें।
  2. धूप से करें बिमारियां दूर – नमक के घोल से तो ये पता चल गया कि कौन सा बीज अच्छा है और कौन सा खराब। लेकिन कुछ बीजों के अंदर रोग हो तो क्या करें? इसका भी इलाज है। मई और जून महीने के तपती गर्मी यानी जब 40 से 50 डिग्री सेल्सियस के बीच तापमान होता है, तब बीजों को घर की छत या पक्के फर्श पर, धूप में सूखने के लिए बिछा दें। इन बीजों को कड़ी धूप में यूं ही 6 से 7 घंटे पड़े रहने दें। इससे बीज के अंदर के रोग खत्म करने में मदद मिलती है। खासतौर पर गेंहूं के बीजों से कुंडूआ रोग खत्म करने में। 




फफूंदनाशक दवाओं से बीज को रोगमुक्त करने के तरीके

  1. कीटनाशी का इलाज:मिट्टी में मौजूद कीड़े, दीमक इत्यादि पौधों को काफी नुकसान पहुंचाते हैं। दीमक से बचाने के लिए पहले क्लोरोपाईरीफॅास 20 ई.सी. को पानी में मिलाकर घोल बना लें और इस घोल को बीजों के ऊपर छिड़काव कर दें। इसके बाद ही इन बीजों को खेत में बोए।
  2. सूखी विधि – इस तरीके से फफूंद का इलाज करने में रसायनों के पाउडर को इस्तेमाल किया जाता है। इसमें एक किलो बीज के लिए बीटावेक्स, एसीटान, बाविस्टिन, सल्फेट, कॉपर और एग्रोसेन जी. एन. सेरेरान की 2 से 2.5 ग्राम की मात्रा मिलाई जाती है।
  3. गीली विधि – जब बीज के अंदर के रोग को मारने के लिए रसायनों को अंदर पहुंचाना जरूरी हो, तब इस तरीके का इस्तेमाल किया जाता है। उदाहरण – आलू में स्कर्वी रोग लगता है। इस रोग को बीज से दूर करने के लिए, सबसे पहले टुफासान या एरीटॉन को पानी के साथ घोल बनाया जाता है। फिर इसमें आलू के बोए जाने वाले बीज को 2 मिनट के लिए डाल दिया जाता है। इसी तरह मूंगफली को टिक्का नाम की बीमारी से बचाने के लिए बीजों को फार्मेलिन के 2.5 प्रतिशत घोल में 30 मिनट तक डालकर रखना होता है।

जीवाणु कल्चर से बीज को रोकमुक्त करना:

जीवाणु कल्चर से अगर बीज टीका लगाया जाता है यानी रोगमुक्त किया जाता है तो ये आपके फसल के लिए बहुत ही ज्यादा अच्छा रहता है। इसके लिए आपके पहले 100 ग्राम गुड और 1 लीटर पानी को मिलाकर घोल बनाना होगा। फिर इस घोल में 200 ग्राम जीवाणु खाद डालनी होगी।

अब 1 एकड़ में लगने वाले बीजों पर इस घोल को स्प्रे से अच्छे से छिड़क दें और धूप में सूखने दें। इस तरह इन बीजों के ऊपर मजबूत बाहरी परत बन जाती है। अब इन्हीं बीजों को सुखाकर तुरंत ही खेत में बो दें। ध्यान रहे कि अब इन बीजों को किसी भी तरह से रसायन या रासायनिक चीजों से दूर रखें।




खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

मशरूम की खेती की Training के लिए कहां और कैसे करें Apply | KisanKhabar Youtube LIVE Video

Story - मशरूम की खेती की Training के लिए कहां और कैसे करें Apply | KisanKhabar Youtube LIVE Video#mushroom #mushroomtraining #profitablefarming #kisan #kisankhabar #agriculture #farming #modernfarming #moderntechnology #farmingtechnology #agriculturefarms #farmingmachine #किसान #गांव #खेतीनीचे दी गई Top प्लेलिस्ट में आपके काम आने वाले एक तरह के सभी वीडियोज़ को अलग अलग ग्रुप में रखा गया है। जैसे कि खेती की ट्रेनिंग से जुड़े वीडियोज़ 'Training ट्रेनिंग ‘ नाम के ग्रुप (प्लेलिस्ट) में मिलेंगे औऱ खेती में जुगाड़ तकनीक वाले वीडियोज़ 'जुगाड़ तकनीक ‘ नाम के ग्रुप (प्लेलिस्ट) में मिलेंगे।

खेती में समस्या का समाधान Solution of Agri problems = http://tiny.cc/stem7yKaise Karein कैसे करें How to do = http://tiny.cc/4xem7y Mushroom मशरूम की खेती = http://tiny.cc/bwem7yखेती में नई तकनीक Agriculture Technology = http://tiny.cc/9wem7yTraining ट्रेनिंग = http://tiny.cc/tuem7yDrip Irrigation ड्रिप इर्रिगेशन pani dene ke drip ka Tarika = http://tiny.cc/nyem7yखेती की जुताई करने वाली नई मशीनें Latest Crop Cultivation Local system = http://tiny.cc/7yem7yबीज बौने या पौधा लगाने वाली नई तकनीक Latest Cultivation Machines = http://tiny.cc/lzem7yफसल की कटाई वाली हैर New Harvesting Machines = http://tiny.cc/2zem7yखेती में चौंकाने वाले प्रयोगों (एक्सपेरीमेंट) के वीडियोज़ = http://tiny.cc/20em7yसफल किसानों की कहानी का वीडियो Successful Farmers = http://tiny.cc/k1em7yदवा छिड़कने वाली मशीनें Spraypump = http://tiny.cc/51em7yजुगाड़ तकनीक Jugaad Technology = http://tiny.cc/0nem7y ड्रोन का खेती में इस्तेमाल Drone in farming = http://tiny.cc/ppem7yपशुपालन Pashupalan = http://tiny.cc/nqem7yट्रैक्टर Tractor = http://tiny.cc/4qem7yगांव में प्रतिभा Village Talent = http://tiny.cc/9tem7yकिसानख़बर KisanKhabar Bulletin = http://tiny.cc/qwem7yविदेशीखेती farming in Foreign = http://tiny.cc/hxem7yखेती में धोखे से सावधान Beware from Fraud in Farming = http://tiny.cc/t0em7yकृप्या हमारे Youtube चैनल को जरूर सब्सक्राइव करें, ताकि आपको हिन्दी भाषा में ऐसे अच्छे वीडियोज़ के मैसेज मोबाइल पर तुरंत मिलते रहे। कृप्या वीडियो को लाइक जरूर कीजिए।1. अगर आपकी जानकारी में ऐसा भी किसान भाई है जो खेती में ऐसा ही कुछ नया कर रहे हैं, तो कृप्या हमको WhatsApp +91.78.2753.8391 पर संपर्क करें।2. अगर ऐसे ही खेती के काम आने वाले रोचक वीडियो आपके पास हैं, तो हमको अपनी और मशीन की पूरी जानकारी के साथ WhatsApp +91.78.2753.8391 करें।====== Social Media A/CsYoutube Channel - https://www.youtube.com/kisankhabarpageFB - https://www.facebook.com/kisankhabarTwitter - https://www.twitter.com/kisankhabarWebsite - https://www.kisankhabar.comAndriod App - http://tiny.cc/ffal7y===== क्या है किसानख़बर.कॉम (KisanKhabar.com) दुनिया की एकमात्र ऐसी वेब, एप और यूट्यूब चैनल हैं, जहां पर खेती से जुड़ी सिर्फ अच्छी खबरों को ही दुनिया के सामने लाया जाता है। किसानों से जुड़ी कुल 14 तरह की समस्याओं का समाधान किसानखबर.कॉम (www.kisankhabar.com) पर मिलता है।KisanKhabar.com is the only portal in Hindi which brings positive news from agriculture field from India and abroad.It brings successful stories of people in farming and tells about new technology in the agriculture field. Apart from this, KisanKhabar.com gives complete details about "how to do" anything in the agriculture field.If you have any interesting story related to farmers/farming/ farming technology etc, please send us to - kisankhabar@gmail.comContact on Phone +91.78.2753.8391 =====

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Hits: 12445



खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।



टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

34 thoughts on “नमक बता देता है कि बीज खराब है या अच्छा, बीज को लगाएं पल्स पोलियों की तरह टीका और पाएं रोगमुक्त बीज, Step by Step पूरी विधि जानें।

  1. 422325 468268Hi! Someone in my Facebook group shared this web site with us so I came to check it out. Im surely loving the info. Im book-marking and will be tweeting this to my followers! Outstanding blog and fantastic style and style. 90090

  2. 310529 558677Hiya! Amazing blog! I happen to be a day-to-day visitor to your web site (somewhat a lot more like addict ) of this internet site. Just wanted to say I appreciate your blogs and am seeking forward for more! 89452

  3. 665227 943761In case you are viewing come up with alter in most with the living, starting point typically L . a . Weight reduction cutting down on calories platform are a wide stair as part of your attaining that most agenda. weight loss 635653

  4. Have you ever thought about adding a little bit more than just your articles? I mean, what you say is valuable and all. Nevertheless imagine if you added some great photos or video clips to give your posts more, “pop”! Your content is excellent but with pics and clips, this website could certainly be one of the best in its niche. Very good blog!

  5. 625673 268886I believe this really is among the most significant information for me. And im glad reading your article. But want to remark on some common points, The web website style is perfect, the articles is truly great : D. Good job, cheers 580233

  6. 802940 756271Id need to verify with you here. Which isnt something I often do! I enjoy studying a publish that can make people feel. Also, thanks for permitting me to remark! 857967

  7. We are a group of volunteers and starting a new scheme in our
    community. Your web site offered us with valuable info to work on. You’ve done a
    formidable job and our whole community will be grateful to you.

  8. This design is incredible! You obviously know how to keep a reader entertained.

    Between your wit and your videos, I was almost moved to start my own blog
    (well, almost…HaHa!) Wonderful job. I really enjoyed what you
    had to say, and more than that, how you presented
    it. Too cool!

  9. I was wondering if you ever thought of changing the structure of your blog?
    Its very well written; I love what youve got to say.
    But maybe you could a little more in the way of content so people could connect with it better.
    Youve got an awful lot of text for only having 1 or 2 pictures.
    Maybe you could space it out better?

  10. Fantastic items from you, man. I’ve have in mind your stuff previous to and
    you’re just extremely excellent. I really like what you have received here, certainly like what
    you are stating and the best way during which you say it.

    You make it entertaining and you still take care of to stay
    it smart. I cant wait to learn much more from you.

    This is actually a tremendous web site.

  11. Do you mind if I quote a few of your articles as long as I provide
    credit and sources back to your blog? My website is in the exact same niche as
    yours and my visitors would genuinely benefit from some
    of the information you present here. Please let me know if this alright with you.
    Thank you!

Leave a Reply

Your email address will not be published.