गेंहू-खराब-करने-वाला-फोटो-1-720x340 - Copy

देश में अन्न खराब होता नहीं बल्कि जानबूझकर पाइप से पानी डालकर खराब किया जाता है, हैरान करने वाली एक्सक्लूसिव तस्वीरें देखिए, गेंहू का दाम महंगे करने की साजिश का खुलासा

ताजा ख़बर नई तकनीक सरकारी योजना

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

हर साल देश में करीब पचास हजार करोड़ रुपए का अनाज बर्बाद हो जाता है। और इसके पीछे आपने अक्सर सरकारी अधिकारियों और नेताओं का मुख से एक ही कारण सुना होगा कि बरसात में गेंहू बर्बाद हो गया। जबकि असलियत ये तस्वीरें साफ साफ बता रही है। ये 3 तस्वीरें साफ साफ बता रही है कि गेंहू कैसे बर्बाद किया जा रहा है।

गेंहू की लाखों बोरिया एक गोदाम में रखी हैं, ताकि यहां बरसात और जलभराव से गेंहू बर्बाद ना हो। लेकिन तभी दिखता है कि एक शख्स जो, बोरों में बंद करके गोदाम में सुरक्षित रखे गए गेंहू को पाइप के जरिए पानी से भीगा रहा है ताकि गेंहू बर्बाद हो जाए और फिर इसे खरीदने वाला कोई ना बचे। इसके बाद साजिश के तहत ये खबर फैलाई जाएगी कि गेंहू बर्बाद हो गया और इसलिए मार्केट में गेंहू की भारी कमी है। नतीजा, गेंहू के दाम आसमान छूने लगेंगे।

गेंहू खराब करने वाला फोटो (1) गेंहू खराब करने वाला फोटो (2) गेंहू खराब करने वाला फोटो (3)

ये तस्वीरें मध्य प्रदेश के एक जिले से किसान रामजस ने भेजी किसानखबर.कॉम को भेजी हैं। वो अपनी पहचान पूरी तरह से बताना नहीं चाहते थे इसलिए उनका फोटो इसमें हम नहीं दे रहे हैं।

अगर आपके पास भी ऐसी ही कुछ तस्वीरें या वीडियो है तो आप हमको वॉट्सअप नबंर 8130648381 पर भेज सकते हैं या फिर kisankhabar@gmail.com पर ईमेल भी कर सकते हैं। आप चाहेंगे तो हम खबर को आपके नाम और फोटो के साथ भी पोस्ट कर सकते हैं, अन्यथा हम आपकी पहचान पोस्ट में नहीं बतायेंगे।




दुनिया में होते हैं गेंहू के लिए हुए दंगे

संयुक्त राष्ट्र की फूड एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक हर साल दुनियाभर में करीब 1300 करोड़ कुंटल खाना किसी न किसी कारण बर्बाद हो जाता है। अमीर देशों में ग्राहक उतना खाना बर्बाद कर देते हैं जितना उप-सहारा अफ्रीका में उत्पादन होता है। स्थिति यह है कि विश्व में आठ में से एक व्यक्ति के पास पर्याप्त खाना नहीं है। जबकि चार-पांच साल पहले अनाज की बढ़ी कीमतों के कारण बारह देशों में दंगे हो गए थे और संयुक्त राष्ट्र को खाद्यान्न संकट पर सम्मेलन बुलाना पड़ा था।




भारत में गेंहू खराब होने पर क्या होता है

सरकार किसानों से खरीदे गए अनाज को खुले में छोड़कर अपना कर्तव्य पूरा समझ लेती है। फिर अनाज के खराब होने के जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ जांच शुरू होती है और यह जांच तब तक चलती रहती है जब तक वह सेवामुक्त होकर अपने घर नहीं पहुंच जाता है। जबकि संयुक्त राष्ट्र की भूख संबंधी सालाना रिपोर्ट कहती है कि दुनिया में सबसे ज्यादा भुखमरी के शिकार भारतीय है। संयुक्त राष्ट्र के खाद्य एवं कृषि संगठन (एएफओ) ने अपनी रपट ‘द स्टेट ऑफ फूड इनसिक्युरिटी इन द वर्ल्ड 2015’ में यह बात कही है। यह विचारणीय और चिंतनीय है कि खाद्यान्न उत्पादन में आत्मनिर्भर होकर भी हमारे देश में भूख से जूझ रहे लोगों की संख्या चीन से भी ज्यादा है। इसकी एक बड़ी वजह हर स्तर पर होने वाली अन्न की बर्बादी है क्योंकि हमारे यहां हर साल करोड़ों टन अनाज बर्बाद होता है।

Whatsapp Farmers Network

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

[youtube_channel resource=0 cache=300 random=1 fetch=10 num=1 ratio=3 responsive=1 width=306 display=thumbnail thumb_quality=hqdefault autoplay=1 norel=1 nobrand=1 showtitle=above showdesc=1 desclen=0 noanno=1 noinfo=1 link_to=channel goto_txt=”खेती के लिए बहुत काम आने वाले वीडियो देखने के लिए हमारे Youtube चैनल पर क्लिक करें।”]

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

Leave a Reply

Your email address will not be published.