LOADING

Type to search

ताजा ख़बर नई खोज नई तकनीक

पूसा जैल लगाओ और फसल की प्यास बुझाओ, अब नहीं फसल को बार बार पानी देने की जरूरत

Share

Hits: 5015

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

अब सिर्फ एक बार के पानी में ही होगी फसल तैयार

पिछले करीब 7-8 साल से टीवी पर आपको एक विज्ञापन खूब दिखता है जिसमें एक एक्टर अपने बालों की नमी की जरूरत पूरी करने के लिए बालों में जैल लगाता दिखता है। अब कुछ उसी तरह ही आप अगर किसी किसान को अपनी फसल को जैल लगाते देख लें, तो चौंकिएगा नहीं।

देश के कृषि वैज्ञानिक लगातार खेती को और आसान बनने के लिए दिन रात नई नई रिसर्च करते रहते हैं, ताकि नई चीजों की खोज हो सके और किसानों को इसका फायदा मिल सके। ऐसे में अब एक नई खोज की है बड़ौदा कृषि विज्ञान केंद्र ने, जो कि इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चर रिसर्च(आईसीएआर) से संबंधित है।

बड़ौदा कृषि विज्ञान केंद्र की खोज के मुताबिक देश में कई इलाकों में जलस्तर लगातार गिरता जा रहा है और फसलों को 3 बार पानी देना संभव नहीं हो पा रहा. लेकिन अब ऐसे इलाकों में फसल को पानी के बजाय जैल लगाया जाएगा।

केंद्र ने पूसा हाइड्रोजैल नाम का एक पदार्थ विकसित किया है, जो 2 या 3 बार पानी देने वाली फसलों को सिर्फ 1 बार की सिंचाई में तैयार कर देगा। बड़ौदा कृषि विज्ञान केन्द्र ने मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में इसका प्रयोग गेंहू और चना की फसलों पर किया है, जहां परिणाम उम्मीद से  भी ज्यादा अच्छे आए हैं।

क्या आपको KisanKhabar.com की तरफ से खेती की अच्छी ख़बरें WhatsApp पर मिलती हैं?

View Results

Loading ... Loading ...




ऐसे काम करता है पूसा हाइड्रोजैल

बारीक कंकड़ों जैसा होता है पूसा हाइड्रोजल। इसे बीज के साथ फसल की बुआई के समय खेतों में डाला जाता है। जब फसल में पहला पानी दिया जाता है तो पूसा हाइड्रोजैल पानी को सोखकर 10 मिनट में ही फूल जाता है और अंत में जैल में तब्दील हो जाता हैं।

जैल में बदला यह पदार्थ गर्मी और उमस में भी नहीं सूखता। जड़ों से चिपके होने की वजह से पौधा अपनी जरूरत के हिसाब से जड़ों के माध्यम से इस जैल का पानी धीरे धीरे सोखता रहता है। यह जैल 2.5 से 3 महीने तक एक सा रह सकता है।




खेत पर बुरा असर नहीं, अनाज का दाना भी बड़ा

बड़ौदा कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक चंद्रभान सिंह के अनुसार जिस खेत में गेहूं और चने के साथ पूसा जैल डाला गया, वहां सिर्फ 1 पानी में ही फसल तैयार हो गई। इसके साथ ही, पूसा हाइड्रोजैल के मदद से हुए चने का साइज भी 2 बार की सिंचाई से हुए चने के साइज से बड़ा होता है।

खास बात यह है कि पेस्टीसाइट्स की तरह, इस जैसे से खेत में कोई नुकसान नहीं होता।




एक एकड़ में 1200 का खर्च

अभी पूसा हाइड्रोजैल के दाम रूपए 1200 प्रति किलो हैं। 1 एकड़ में बीज के साथ 1 किलो पूसा हाइड्रोजैल बोया जाता है। जबकि 1 बार की सिंचाई में किसान को 1 एकड़ के लिए रूपए 500 से 700 चुकाने पड़ते हैं।

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

क्या आपको KisanKhabar.com की तरफ से खेती की अच्छी ख़बरें WhatsApp पर मिलती हैं?

View Results

Loading ... Loading ...

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

नौकरी छोड़ किसान आदेश कुमार कर रहे हैं शतावर की खेती कमा रहे हैं लाखों naukari chod kmate hain lakhon

नौकरी छोड़ किसान आदेश कुमार कर रहे हैं शतावर की खेती कमा रहे हैं लाखों naukari chod Adesh kumar kma rahe hain lakhon

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Tags:
Vandana Singh

वंदना सिंह को पत्रकारिता का 10 साल का अनुभव है

    1

You Might also Like

11 Comments

  1. Pushpandra June 3, 2018

    Good

    Reply
  2. Like September 5, 2018

    Like!! Really appreciate you sharing this blog post.Really thank you! Keep writing.

    Reply
  3. I went over this site and I think you have a lot of good information, saved to fav 🙂

    Reply
  4. ปั้มไลค์ October 9, 2018

    I believe you have noted some very interesting details, thankyou for the post. 🙂

    Reply
  5. Caco 2 TEER values January 21, 2019

    128848 988589Thank you for your quite good info and respond to you. 262740

    Reply
  6. what is pharmacokinetics January 22, 2019

    902477 987127Naturally I like your web-site, however you need to check the spelling on several of your posts. Many of them are rife with spelling difficulties and I uncover it quite silly to inform you. On the other hand I will surely come once again once again! 895855

    Reply
  7. 107040 964010An attention-grabbing dialogue is value comment. Im confident that its greater to write on this topic, towards the often be a taboo topic but typically persons are not sufficient to speak on such topics. To another location. Cheers 844252

    Reply
  8. in vitro biowaiver January 23, 2019

    540135 852831Its exceptional as your other posts : D, regards for posting . 953005

    Reply
  9. Escort Girls February 11, 2019

    100058 568921Hello there, just became alert to your blog via Google, and located that it is genuinely informative. Im going to watch out for brussels. I will appreciate in case you continue this in future. Many folks will likely be benefited from your writing. Cheers! 937941

    Reply
  10. meta description tool moz February 13, 2019

    764987 801793Terrific paintings! That may be the type of info that are meant to be shared around the net. Shame on the seek for no longer positioning this publish higher! Come on more than and consult with my web site . Thank you =) 580222

    Reply
  11. 646709 16280Howdy just wanted to give you a brief heads up and let you know some with the pictures arent loading properly. Im not sure why but I feel its a linking concern. Ive tried it in two different internet browsers and both show exactly the same outcome. 524133

    Reply

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat