झारखंड में बीमा फसल योजना को लेकर क्यों छाई हुई है सुस्ती

ताजा ख़बर सरकारी योजना

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

झारखंड में किसानों के बीच प्रधानमंत्री बीमा फसल योजना को लेकर उत्साह कुछ खास नहीं दिख रहा। ये हम नहीं बल्कि आंकड़े बता रहे हैं।

खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई चीजें सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।

जिले के किसान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं, जबकि किसानों के लिए यह फसल बीमा हर तरह से फायदेमंद है। 55 हजार किसानों का फसल बीमा कराने का लक्ष्य सरकार ने पूर्वी सिंहभूम जिले को दिया था।

टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

किसानों को फसल बीमा कराने की अंतिम तारीख 31 जुलाई 2016 है। लेकिन सिर्फ 6500 किसान ही 14 जुलाई तक फसल बीमा करा पाये हैं।




अब सिर्फ 17 दिन बचे हैंं और 43 हजार किसानों का बीमा करना बाकी है। लगता नहीं है कि ये लक्ष्य अंतिम तारीख यानी 31 जुलाई तक हासिल हो पाएगा।

जिला सहकारिता पदाधिकारी कृष्णा भगत का कहना है कि किसानों को बीमा कराने के संबंध में काफी प्रचार-प्रसार किया जा रहा है, लेकिन फिर भी किसानों में इसे लेकर कुछ खास जोश नहीं है।

एक अप्रैल 2016 से यह योजना लागू है, जिसमें धान की फसल काटने के 14 दिन बाद तक किसान इसका लाभ ले सकते हैं। खरीफ की प्रमुख फसलों में मक्का और धान का बीमा होगा।

1 एकड़ धान की फसल पर किसान को 418.27 रुपये का प्रीमियम भरना होगा। इस पर किसान को फसल खराब होने की स्थिति में मुआवजे के रूप में बीमा कंपनी से रूपए लगभग 21 हजार रुपए (रूपए 20,913.27) प्रति एकड़ मिलेंगे।




जबकि मक्का के लिए 322.16 रुपये प्रति एकड़ का प्रीमियम देना होगा। इसके एवज में 16,108 रुपये उसे दिये जाएंगे।

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

25 June को देश की एक मंडी में 3 लाख रू. कुंटल बिकी एक फसल, 9 हजार+ फसलों का ताजा भाव

KisanKhabar.com दुनिया की एकमात्र ऐसी साइट है जहां पर खेती की सिर्फ अच्छी ख़बरें ही आती हैं। जहां खेती में सफल किसानों की ना केवल सफलता की कहानियां बताई जाती हैं बल्कि आपको उनसे मिलने का मौका भी दिया जाता है ताकि आप भी उनकी तरह लाखों की कमाई वाली खेती करना सीख सकें।

इसके अलावा हर किसान की 14 समस्याओं का समाधान भी आपको सिर्फ और सिर्फ इसी साइट पर मिलेगा। --------------------------------------------------------------------------------------------------------- Kisan Khabar Live | New Farming Technology | Kheti New machine | Mandi Rates Live | Kheti ki News#mandi #mandibhav #kisankhabar #farming #farmingtechnology #kheti #mandirates #kisan #kisanbulletin #kisanmanch #farmers #farming #modernfarming #moderntechniques #farmhouse #polyhouse #tractor--------------------------------------------------------------------------------------------------------- KisanKhabar.com is the only portal which brings only good news from Farm Field. It brings A to Z information about farming, technology, and stories of successful farming. Apart from this, it guides old and new farmers as wellDownload India’s No. 1 Hindi News Mobile App: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.stork.kisankhabar&hl=en_INSubscribe To Our Channel: https://www.youtube.com/channel/UCUjgueyc1T3-kmH8qD5vcPQLike us on Facebook http://www.facebook.com/kisankhabarFollow us on Twitter http://twitter.com/kisankhabarOfficial website: https://www.kisankhabar.com

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Hits: 1015



खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।



टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

35 thoughts on “झारखंड में बीमा फसल योजना को लेकर क्यों छाई हुई है सुस्ती

  1. 656734 441821Ive been absent for a whilst, but now I remember why I used to adore this site. Thank you, I will try and check back much more often. How often you update your site? 625940

  2. 999906 247659Its really a cool and useful piece of data. Im glad that you shared this useful data with us. Please maintain us informed like this. Thanks for sharing. 146298

  3. 14132 6199We are a group of volunteers and opening a new scheme in our community. Your web website given us with valuable data to work on. Youve done an impressive job and our entire community will be grateful to you. 10745

  4. 371745 586009Yours is a prime example of informative writing. I believe my students could learn a great deal from your writing style and your content material. I may possibly share this article with them. 641545

  5. 285695 578063Soon after study a handful of the content inside your internet internet site now, and that i genuinely such as your method of blogging. I bookmarked it to my bookmark internet site list and are checking back soon. Pls appear into my site as nicely and tell me what you believe. 598275

Leave a Reply

Your email address will not be published.