LOADING

Type to search

ताजा ख़बर नई तकनीक

आगरा का मशहूर पेठा जिस फल से बनता है वो देता है 4 गुना ज्यादा कमाई, आगरा, कानपुर, बरेली, झांसी में भारी डिमांड

Share

Hits: 4251

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

आगरा का ताजमहल और पेठा दुनिया भर में मशहूर है। जो आगरा आता है वो पेठा लेकर जरूर जाता है। 60 लाख से ज्यादा देशी और विदेशी पर्यटक हर साल ताजमहल देखने आगरा आते हैं। जाहिर है ताजमहल देखते हैं तो पेठा भी खूब खरीदा ही जाता है। इसी वजह से पेठे के फल की खेती करने वाले किसानों की जेब खूब भर रही है।

दरअसल, कुम्हड़ा फल से पेठा बनाया जाता है। 1 एकड़ पेठे की फसल पर लागत 4 से 5 हजार रुपए आती है। जबकि कमाई के तौर पर प्रति एकड़ रूपए 20 से 40 हजार रुपए होती है। 3 से 4 महीने में होने वाली कुम्हड़ा की फसल की लागत कम और मुनाफा ज्यादा होता है।




इस फल से बनता है पेठा

इस फल से बनता है पेठा

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में पेठा खूब होता है, जो मुख्य तौर पर आगरा के मेन मार्केट में  भेजा जाता है। आगरा के 2 सबसे बड़े पेठा बनाने वाले ब्रांड पंछी और प्राची है, जो इनको सबसे ज्यादा खरीदते हैं।

कुम्हड़ा या खबहा की खेती उत्तर प्रदेश के बरेली, कानपुर, घाटमपुर और झांसी में खूब होती है।

लखनऊ के राजपुर ब्लॉक से में इटखुदा गाँव है। यहां के 48 साल के किसान संतोष कटियार के मुताबिक मई के आख़िरी हफ्ते या जून के पहले हफ्ते में बुवाई होती और सितम्बर में ये तैयार हो जाती है।

Petha Panchi-Small

जबकि जुलाई के पहले हफ्ते में बुवाई करने वाली फसल को अगैती फसल कहते हैं। अगैती फसल नवम्बर में तैयार हो जाती है।




पेठा बनाने में इस्तेमाल कुम्हड़ा की मांग आगरा, कानपुर और बरेली की मंडियों में बहुत ज्यादा है। यह स्वाद के साथ-साथ किसानों की आर्थिक स्थिति में भी मिठास डाल देता है।

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

सचिन ने इंजीनियर की नौकरी छोड़ी अब इस खेती से कमा रहे हैं करोड़ों रुपये ENGINEER KI NAUKARI CHOODI

सचिन ने इंजीनियर की नौकरी छोड़ी अब इस खेती से कमा रहे हैं करोड़ों रुपये ENGINEER KI NAUKARI CHOODI

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Vandana Singh

वंदना सिंह को पत्रकारिता का 10 साल का अनुभव है

    1

3 Comments

  1. Like September 13, 2018

    Like!! Thank you for publishing this awesome article.

    Reply
  2. Likely I am likely to save your blog post. 🙂

    Reply
  3. ปั้มไลค์ October 11, 2018

    I believe you have noted some very interesting details, thankyou for the post. 🙂

    Reply

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat