Press "Enter" to skip to content

मिर्च को वायरस से कैसे बचाएं? मिर्च का नीम कनैक्शन

Hits: 13898

नीम के काढ़े से मिर्च पर नहीं लगेगा वायरस

मध्य प्रदेश में मिर्च की खेती 1 लाख 54 हजार 700 हेक्टेयर में हो रही है। देश के कई और राज्यों में मिर्च की खेती बड़ी तादाद में की जाती है।

अकसर देखने में अाता है कि जरा सी गलती होने पर पर्ण कुंचन वायरस की चपेट में मिर्च आ जाती है। नतीजा फसलें प्रभावित होती है और आर्थिक नुकसान होता है।

खरगोन के कृषि विज्ञान केंद्र वैज्ञानिक एसके त्यागी ने बताया किसानों को रोपाई से पहले खेत की गहरी जुताई और फसल पर नीम के काढ़े का छिड़काव करना चाहिए। ऐसा करने से कुंचन वायरस इंडिया यानी बेगामु वायरस नहीं आएगा। 15 जुलाई तक किसान रोपाई कर सकते हैं।




पर्ण कुंचन से कैसे बचाएं

नीम की नींबोली का काढ़ा (750 ग्राम निंबोली) प्रति 15 लीटर पानी में मिलाएं। फिर 15 लीटर पानी में नीम तेल 75 एमएल को छिड़कें। फिप्रोनील 30 एमएल के साथ 50 ग्राम सल्फेक्स को 15 ली. पानी में मिलाएं। 15 लीटर पानी में एसिटामीप्रिड 3 ग्राम का छिड़काव करें।




कैसे करें

केंचुआ खाद (50 क्विंटल प्रति हेक्टेयर) या खेत में गोबर खाद (250-300 क्विंटल) बोवनी से पहले डालें। रासायनिक उर्वरक 120:80:80 किलो प्रति हेक्टे. नत्रजन, स्फूर और पोटाश दें।

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजी इस तकनीक से पाकिस्तान हो रहा है मालामाल BHARTIYA VAIGYANIKON NE KHOJI

भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजी इस तकनीक से पाकिस्तान हो रहा है मालामाल BHARTIYA VAIGYANIKO NE KHOJI ES TAKNIK SE PAKISTAN HO RHA HAI MALAMAL

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

3 Comments

  1. Like!! I blog quite often and I genuinely thank you for your information. The article has truly peaked my interest.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WhatsApp chat