पति-पत्नी ने शहर की बड़ी नौकरियां छोड़ हिमाचल में शुरू की लाखों की कमाई वाला खेती

ताजा ख़बर नई तकनीक नौकरी या खेती

उत्तर भारत के हिमाचल प्रदेश में भी फूलों का कारोबार हर साल तेजी से बढ़ रहा है। अब ये कारोबार करीब 100 करोड़ रूपए तक पहुंच चुका है। लगभग 828 हेक्टेयर भूमि में फूलों का कारोबार हिमाचल में किया जा रहा है। इसमें पॉलीहाउस के जरीए फूलों की खेती लगभग 89 हेक्टेयर में हो रही है।

फूलों के इस बढ़ते कारोबार में हाथ आजमाने का फैसला एक युवा दंपत्ती स्वाति सूद और मोहिद सूद ने भी लिया। M.Tech और MBA तक उच्च शिक्षा हासिल करने वाले दोनों पति-पत्नी ने अपनी अच्छी सैलरी वाली नौकरी छोड़ दी। और फिर हिमाचल प्रदेश के पांवटा शहर के गांव बेहड़ेवाला में पॉलीहाउस के जरीए फूलों की खेती शुरु कर दी।

स्वाति और मोहित ने शुरुआत में 4000 वर्ग मीटर की जमीन ली। इसमें से 1000 वर्ग मीटर में उन्होंने 4 पॉलीहाउस बनाकर उनमें जरबेरा के फूलों की खेती शुरु कर दी।




मोहित के मुताबिक स्थानीय बागबानी विभाग के मदद से उन्होंने पॉलीहाउस का आधारभूत ढांचा खड़ा किया। जमीन और पानी की जरूरत को पूरा किया। इस सब पर कुल 63 लाख रूपए का खर्चा आया। इसमें से 39 लाख का अनुदान उनको राष्ट्रीय बागबानी तकनीकी मिशन के अंतर्गत मिला।

मोहिन और स्वाति ने पूना से लाए 23800 जरबेरा के पौधे अपने चारों पॉलीहाउस में लगाए थे। इन पर कुल खर्च 9.50 लाख रूपए आया।

शुरुआती मेहनत के बाद अब वो 1.35 लाख रूपए का फूलों का उत्पादन कर रहे हैं। जिनसे उनको सालाना 14 लाख रूपए का मुनाफा हो जाता है।




पॉलीहाउस के जरीए खेती करने का फैसला करने से पहले स्वाति और मोहित दिल्ली में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते थे। लेकिन उनको भविष्य में नौकरी से ज्यादा अच्छा भविष्य मॉर्डन खेती में दिखा। उनका फैसला सही साबित हुआ और अब वो 2 और पॉलीहाउस बनाने वाले हैं।

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

[youtube_channel resource=0 cache=300 random=1 fetch=10 num=1 ratio=3 responsive=1 width=306 display=thumbnail thumb_quality=hqdefault autoplay=1 norel=1 nobrand=1 showtitle=above showdesc=1 desclen=0 noanno=1 noinfo=1 link_to=channel goto_txt=”खेती के लिए बहुत काम आने वाले वीडियो देखने के लिए हमारे Youtube चैनल पर क्लिक करें।”]

Leave a Reply

Your email address will not be published.