विदेशी फूलों की खेती ने बना दिया बाराबंकी को बना दिया नंबर 1, किसान हो रहे मालामाल

ताजा ख़बर नई तकनीक

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के बिल्कुल नजदीक शहर है बाराबंकी। लेकिन इस शहर ने अब एक नई पहचान बना ली है। अब बाराबंकी शहर विदेशों फूलों की खेती के लिए देशभर में मशहूर हो रहा है।

खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई चीजें सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।

पूरे प्रदेश में जरबेरा फूल की खेती सबसे ज्यादा बाराबंकी जिले में भी हो रही है। सरकारी विभाग की सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक फूलों की खेती के मामले में उत्तर प्रदेश में बाराबंकी नंबर 1 पर है। बाराबंकी में जरबेरा फूल की खेती के सबसे ज्यादा पॉली हाउस लगे हुए हैं।

टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।




बाराबंकी में टमाटर, केला, मेंथा,  तुलसी और अफीम की खेती से किसानों ने अपने लिए तरक्की की नए रास्ते खोले हैं। परंपरागत फसलों की खेती के उत्पादन और बाजार भाव में गिरावट आने के कारण यहां के किसानों ने जरबेरा फूल की खेती को अपनाया हैं।

बाराबंकी के बाद मुजफ्फरनगर दूसरे नंबर पर है। यहां के किसान जरबेरा के फूल की खेती से से हर साल एक एकड़ में 6 से 7 लाख रूपए का लाभ कमा लेते हैं। अच्छी बात ये है कि कृषि विभाग, जरबेरा की खेती करने के लिए किसानों को लागत का 50 % अनुदान भी दे रहा है।

इन्हें मिला अनुदान का लाभ




रामनगर के बेरिया निवासी राजकुमार वर्मा ने जरबेरा खेती के लिए पॉलीग्रीन हाउस बनवाया, जिसकी लागत 28.50 लाख रूपए आई। इसमें से 14 लाख का अनुदान सरकारी विभाग से मिल गया। अब वो पूरे साल फूलों का उत्पादन कर अच्छी कमाई कर रहे हैं।

जबकि एक दूसरे किसान श्रीकेशन ने 49 लाख की लागत से बड़ा पॉली हाउस बनवाया और 49 लाख में से 24 लाख का उनको अनुदान मिल गया।

इसी तरह मसौली के सराय कायस्थान में रहने वाले किसान राकेश कुमार ने कुल 31 लाख रूपए की लागत से पॉली हाऊस तैयार करवाया और उनको 15 लाख का अनुदान मिल गया।

जिले में 6 करोड़ की लागत से पॉली, ग्रीन हाउस बनाए गए हैं।

खेती की ख़बरें अब मोबाइल पर पाना और भी हुआ आसान, डाउनलोड करें किसानख़बर की नई एप जिसमें है किसानों की लगभग हर समस्या का समाधान

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

किस मंडी में किस भाव में बिकी कौन सी फसल | Mandi Rates LIVE

किस मंडी में किस भाव में बिकी कौन सी फसल | Mandi Rates LIVEKisanKhabar.com दुनिया की एकमात्र ऐसी साइट है जहां पर खेती की सिर्फ अच्छी ख़बरें ही आती हैं। जहां खेती में सफल किसानों की ना केवल सफलता की कहानियां बताई जाती हैं बल्कि आपको उनसे मिलने का मौका भी दिया जाता है ताकि आप भी उनकी तरह लाखों की कमाई वाली खेती करना सीख सकें।

इसके अलावा हर किसान की 14 समस्याओं का समाधान भी आपको सिर्फ और सिर्फ इसी साइट पर मिलेगा। --------------------------------------------------------------------------------------------------------- Kisan Khabar Live | New Farming Technology | Kheti New machine | Mandi Rates Live | Kheti ki News#kisankhabar #farming #farmingtechnology #kheti #mandirates #kisan #kisanbulletin #kisanmanch #farmers #farming #modernfarming #moderntechniques #farmhouse #polyhouse #tractor--------------------------------------------------------------------------------------------------------- KisanKhabar.com is the only portal which brings only good news from Farm Field. It brings A to Z information about farming, technology, and stories of successful farming. Apart from this, it guides old and new farmers as wellDownload India’s No. 1 Hindi News Mobile App: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.stork.kisankhabar&hl=en_INSubscribe To Our Channel: https://www.youtube.com/channel/UCUjgueyc1T3-kmH8qD5vcPQLike us on Facebook http://www.facebook.com/kisankhabarFollow us on Twitter http://twitter.com/kisankhabarOfficial website: https://www.kisankhabar.com

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Hits: 5901



खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।



टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

41 thoughts on “विदेशी फूलों की खेती ने बना दिया बाराबंकी को बना दिया नंबर 1, किसान हो रहे मालामाल

  1. 981487 133554I will appropriate away grasp your rss as I can not in obtaining your e-mail subscription hyperlink or e-newsletter service. Do youve any? Kindly permit me realize so that I could subscribe. Thanks. 572266

  2. Howdy! Someone in my Facebook group shared this site with us so I came to take a look. I’m definitely loving the information. I’m book-marking and will be tweeting this to my followers! Fantastic blog and great style and design.

  3. Howdy! I’m at work surfing around your blog from my new iphone! Just wanted to say I love reading through your blog and look forward to all your posts! Carry on the excellent work!

  4. Hello are using WordPress for your blog platform? I’m new to the blog world but I’m trying to get started and create my own. Do you require any html coding knowledge to make your own blog? Any help would be really appreciated!

  5. 37818 193158Youre so cool! I dont suppose Ive read anything in this way before. So nice to uncover somebody with some original concepts on this subject. realy appreciate starting this up. this excellent website is something that is necessary over the internet, a person if we do originality. valuable function for bringing something new towards the web! 907148

  6. I’ll immediately grab your rss as I can’t find your email subscription link or newsletter service. Do you have any? Kindly let me know so that I could subscribe. Thanks.

  7. I keep listening to the reports speak about getting free online grant applications so I have been looking around for the finest site to get one. Could you advise me please, where could i get some?

  8. 795166 940273Id want to verify with you here. Which is not 1 thing I usually do! I take pleasure in reading a submit that will make individuals believe. In addition, thanks for permitting me to remark! 168302

Leave a Reply

Your email address will not be published.