Flowers farming suggested by Indian Government

जानिए कि क्यों तेजी से भारत में फल-फूल रहा है फूलों का बाजार, कहां और किस संस्थान लें ट्रेनिंग

इंटरव्यू ताजा ख़बर नई तकनीक सरकारी योजना

परंपरागत खेती छोड़िए और शुरु कर दीजिए फूलों की खेती

भारत में फूलों की खेती वैसे तो एक जमाने से हो रहे हैं लेकिन पिछले 8-10 सालों में इसमें बहुत तेजी आई है। कई भारतीय युवाओँ ने देश-विदश में बड़ी बड़ी तनख्वाह वाली नौकरियां छोड़कर फूलों की खेती से ही मोटी रकम कमाई है। खासतौर पर ग्लैडियोलस, गुलाब, बुल्गारियन गुलाब और रजनीगंधा की खेती सबसे ज्यादा हो रही है।

इनका इस्तेमाल इत्र और खूबसूरती बढ़ाने वाली क्रीम बनाने से लेकर शादी-पार्टी में खूब हो रहा है।

खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई चीजें सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।

Flowers farming suggested by Indian Government
Flowers farming suggested by Indian Government

टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।



फूलों की खेती में संभावनाएं

फूलों की खेती के कई राज्यों जैसे मध्य प्रदेश, पंजाब, गुजरात, आंद्र प्रदेश, हरियाणा, झारखंड, उत्तर प्रदेश, उड़ीसा और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों में ज्यादा होती है। लेकिन पिछले कुछ समय में महाराष्ट्र, कर्नाटक और पं.बंगाल ने बाकी सभी राज्यों को इस मामले में पिछे छोड़ दिया है।

साल 2013-2014 में भारत से 455.90 करोड़ रूपए के फूलों का निर्यात दूसरे देशों को किया गया। इनमें जर्मनी, अमेरिका, नीदरलैंड, यूएई, कनाडा, जापान और ब्रिटेन खास तौर पर शामिल हैं।

इन देशों को करीब 300 से ज्यादा छोड़ी बड़ी कंपनियां फूलों को एक्सपोर्ट करती हैं, इसमें से आधे से ज्यादा तमिलनाडु, आंद्र प्रदेश और कर्नाटक में है।




Flowers farming suggested by Indian Government
Flowers farming suggested by Indian Government

फूलों की बिजनस के कुछ बड़े तथ्य

  1. पूरी दुनिया में करीब 140 देश फूलों की खेती करते हैं।
  2. इनकी सबसे ज्यादा डिमांड अमेरिका में है। यानी अमेरिका दुनिया के सबसे ज्यादा फूलों को इस्तेमाल करता है।
  3. अमेरिका के बाद जापान का नंबर सबसे ज्यादा खपत के मामले में दूसरे नंबर पर आता है।
  4. भारत में फूलों का कारोबार हर साल 7 से 10 प्रतिशत की सालाना रफ्तार से बढ़ रहा है।

इसे भी पढ़े – खेती के लिए अब ना जमीन की जरूरत और ना ही इंसान की,2017 से रोबेट करेगा खेती और वो भी मिट्टी के बिना ही

Flowers farming suggested by Indian Government
Flowers farming suggested by Indian Government



फूलों की किस्में

फूलों की खेती में सबसे ज्यादा  जाइसोफिला, आर्किड, गुलदाउदी, लाली, अन्थुरियम, ट्यूलिप, ग्लेडियोलस इत्यादि का उत्पादन किया जाता है।

अगर ग्रीन हाउस की बात करें, तो गुलनार और गारव्रेरास जैसे फूलों को ग्रीन हाउस में ही उगाया जाता है। जबकि खुले खेत में गुलाब, गेल्लारड़िया, लिलि, तारा, कंदाकार, गुलदाउदी, गुलाब और मेरीगोल्ड को उगाया जाता है।

इसके अलावा रात की रानी, मोतिया, मोगरा और जूही इत्यादि जैसे छोटे-छोटे पेड़ लगा कर भी अच्छी कमाई की जा सकती है।

इसे भी पढ़ें – एक पैर पर खेती करने वाला किसान, 19 साल से कर रहा है एक पैर पर खेती

Flowers farming suggested by Indian Government
Flowers farming suggested by Indian Government



 

एक व्यवसाय के रूप में

फूलों के खेती की शुरुआत के लिए सिर्फ सवा बीघा खेती काफी है, लेकिन अगर 5 बीघा खेत पर फूलों की खेती की जाए, तो किसान के वारे-न्यारे हो सकते हैं। इसे एक नर्सरी के रूप में खोल कर पूरे साल जबरदस्त कमाई की जा सकती है।

सितम्बर से मार्च का महीना फूलों की पैदावार के लिए बिल्कुल सही होता है लेकिन अक्टूबर से फरवीर के बीच का समय इस बिजनस के लिए वरदान की तरह होता है।

फूलों की लगभग सभी किस्मों की बुवाई सितम्बर और अक्टूबर महीने में की जाती है।

अगर इनके बीज चाहिए, तो पूसा इंस्टीटय़ूट या देश के किसी भी बड़े अनुसंधान केंद्र से इनको आसानी से हासिल किया जा सकता है। फूलों का कारोबार वैसे तो पूरे साल का कारोबार है लेकिन सर्दियों में इनकी डिमांड काफी बढ़ जाती है।

भारत में फूलों की सबसे बड़ी मंडी दिल्ली में है। जहां से पूरी दुनिया को फूल एक्सपोर्ट किए जाते हैं। करीब 100 कंपनियां फूलों के उत्पादन के क्षेत्र में करीब 2500 रूपए निवेश कर चुकी हैं। इन कंपनियों को लगभग हर शहर में एजेंट हैं जिनके जरीए फूलों बेचे जा सकते हैं।




इससे जुड़ी कुछ बड़े संस्थान

  • इंडियन एग्रीकल्चर रिसर्च इंस्टीटय़ूट, नई दिल्ली
  • आनंद एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी आनंद, गुजरात
  • जीबी पंत यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी, पंत नगर, उत्तराखंड
  • पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, लुधियाना, पंजाब
  • इलाहाबाद एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, इलाहाबाद
  • बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय, इंस्टीटय़ूट ऑफ एग्रीकल्चर साइंस फैकल्टी, वाराणसी, उत्तर प्रदेश
  • हिसार एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, हिसार, हरियाणा

 

किस मंडी में किस भाव में बिकी कौन सी फसल | Mandi Rates LIVE

किस मंडी में किस भाव में बिकी कौन सी फसल | Mandi Rates LIVEKisanKhabar.com दुनिया की एकमात्र ऐसी साइट है जहां पर खेती की सिर्फ अच्छी ख़बरें ही आती हैं। जहां खेती में सफल किसानों की ना केवल सफलता की कहानियां बताई जाती हैं बल्कि आपको उनसे मिलने का मौका भी दिया जाता है ताकि आप भी उनकी तरह लाखों की कमाई वाली खेती करना सीख सकें।इसके अलावा हर किसान की 14 समस्याओं का समाधान भी आपको सिर्फ और सिर्फ इसी साइट पर मिलेगा। --------------------------------------------------------------------------------------------------------- Kisan Khabar Live | New Farming Technology | Kheti New machine | Mandi Rates Live | Kheti ki News#kisankhabar #farming #farmingtechnology #kheti #mandirates #kisan #kisanbulletin #kisanmanch #farmers #farming #modernfarming #moderntechniques #farmhouse #polyhouse #tractor--------------------------------------------------------------------------------------------------------- KisanKhabar.com is the only portal which brings only good news from Farm Field. It brings A to Z information about farming, technology, and stories of successful farming. Apart from this, it guides old and new farmers as wellDownload India’s No. 1 Hindi News Mobile App: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.stork.kisankhabar&hl=en_INSubscribe To Our Channel: https://www.youtube.com/channel/UCUjgueyc1T3-kmH8qD5vcPQLike us on Facebook http://www.facebook.com/kisankhabarFollow us on Twitter http://twitter.com/kisankhabarOfficial website: https://www.kisankhabar.com

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Hits: 3478



खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।



टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

30 thoughts on “जानिए कि क्यों तेजी से भारत में फल-फूल रहा है फूलों का बाजार, कहां और किस संस्थान लें ट्रेनिंग

  1. 447282 836338I agree with most of your points, but several need to have to be discussed further, I will hold a small speak with my partners and perhaps I will look for you some suggestion soon. 954382

  2. 821845 19908This website is in fact a walk-through it actually will be the details you desired relating to this and didnt know who ought to. Glimpse here, and youll undoubtedly discover it. 887646

  3. 343781 757459For anyone one of the lucky peoples, referring purchase certain products, and in addition you charm all with the envy of all of the the a lot of any other folks around you that tend to have effort as such make a difference. motor movers 884390

  4. Hey there! This is kind of off topic but I need some help from an established blog. Is it difficult to set up your own blog? I’m not very techincal but I can figure things out pretty fast. I’m thinking about setting up my own but I’m not sure where to begin. Do you have any points or suggestions? Thanks

  5. I’m really enjoying the design and layout of your website. It’s a very easy on the eyes which makes it much more enjoyable for me to come here and visit more often. Did you hire out a developer to create your theme? Exceptional work!

  6. Would you say “No” to 37 tools that will build and automate your website, so you don’t have to touch it again? All for a price of peanuts – $15 – yeah, stupidly cheap for 37 automation tools that do all the hard work for you. One of the tools even creates banners for you lol! You will not find anything like this in your whole life! Go and grab your copy before all software is gone! Click here: Affiliate Bots 2.0

  7. This design is incredible! You obviously know how to keep a reader entertained. Between your wit and your videos, I was almost moved to start my own blog (well, almost…HaHa!) Fantastic job. I really loved what you had to say, and more than that, how you presented it. Too cool!

  8. discount programs for accutane Albuterol No Perception Needed viagra Keflex Safe During Breastfeeding Cheapeast Generic Hydrochlorothiazide Secure Get Mastercard On Line

  9. Cialis Achat En Ligne Canada Diclofenac Online Pharmacy Us No Rx Viagra Und Co Kaufen cialis online Cialis For Sale Canadian Online Pharmacy India Tamoxifen 20 Mg Generic Levaquin Medication Low Price Pharmacy

Leave a Reply

Your email address will not be published.