Quail Egg Farming

क्या कभी की है बटेर के अंडे की खेती ! नहीं ना, तो अब करो। 60 रूपए का एक अंडा बिकता है बाजार में

ताजा ख़बर नई तकनीक

देश में है बटेर के अंडे की भारी मांग

मुर्गीपालन के बारे में जो आपने खूब पढ़ा-सुना है, लेकिन बटेर पालन के बारे में बहुत कम जानकारी मिलती है। इस बार किसानख़बर.कॉम बटेर पालन की विस्तारपूर्ण जानकारी लेकर आया है। बटेर और बटेर के अंडे की डिमांड पिछले कुछ सालों में काफी बढ़ी है।

1972 में भारत सरकार ने जंगली बटेर के शिकार पर पाबंदी लगा दी थी। इसके बाद से ही बटेर अंडे का अच्छी खासी कमी बाजार में हो गई और इसकी वजह से ही अब बटेर पालन का व्यवसाय ज्यादा फल-फूल रहा है।

ऐसे में 2011 में नाबार्ड ने प्रेम यूथ फाउंडेशन के जरीए वैशाली जिले में एक कार्यक्रम चलाया। जिसमें करीब 100 किसानों को व्यावसायिक स्तर पर बटेर पालन की ट्रेनिंग दी गई।

 

 

<script async src=”//pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js”></script>

<!– KK Sunil Ad no1 –>

<ins class=”adsbygoogle”

style=”display:block”

data-ad-client=”ca-pub-2524861400311440″

data-ad-slot=”2480144412″

data-ad-format=”auto”></ins>

<script>

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

</script>

लागत और मुनाफा

फाउंडेश की योजना है कि पहले वो कुछ किसानों के जरीए पहले 4 हैचरी तैयार करें। ताकि बटेर पालन बड़े स्तर पर करके रोजाना 500 बटेर बाजार में भेजे जा सकें और इससे किसानों का ज्यादा अच्छी कमाई का मौका मिल सके।

यूपी के इज्जत नगर से एक दिन का चूजा मंगाने पर 6.00 रुपये का मिलता है जबकि एक हफ्ते का चूजा 19 रूपए में मिलता है। 40 से 45 दिन के होने पर इन चूजों का वजन 300 ग्राम हो जाता है। तब प्रेम फाउंडेशन इन किसानों से 45 रूपए प्रति बटेर के हिसाब से इनको खरीद लेती है और भी कुछ मुनाफे के साथ बाजार में बेचती है।

यानी किसान को 19 रूपए की लागत पर 20 से 26 रूपए की बचत हो जाती है।

मुर्गी के एक अंडे का वजन 55 ग्राम होत है जबकि बटेर के एक अंडे का वजन 10 ग्राम। लेकिन बटेर के अंडे में मुर्गी के अंडे से ज्यादा प्रोटीन और विटामिन इत्यादि पाए जाते हैं।

पिछले कुछ सालों में नॉन-वेज के शौकीन लोगों में बटेर की डिमांड काफी बढ़ी है।

 

 

<script async src=”//pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js”></script>

<!– KK Sunil Ad No.3 –>

<ins class=”adsbygoogle”

style=”display:block”

data-ad-client=”ca-pub-2524861400311440″

data-ad-slot=”5433610810″

data-ad-format=”auto”></ins>

<script>

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

</script>

बनाए बटेर पालन को एक सफल व्यवसाय

200 बटेर के चूजों को शुरुआत में 45 दिन तक पालने पर लागत करीब 12,500 रुपये आई। इन 200 बटेर को खुले बाजार में बेचने पर करीब रूपए 21,800 मिल जाते हैं। यानी रूपए 12500 की लागत पर रूपए 9300 की बचत।

भगवानपुर के मुकुंदपुर गांव के रहने वाले सुधीर कुमार शर्मा ने 4,000 बटेर अपने एक फॉर्म हाउस पाल रखे हैं। जिनकी देखभाल उनके 4 कर्मचारी करते हैं। हर महीने इनसे करीब 1000 अंडे सुधीर को मिल जाते हैं। निकट भविष्य में इनसे होने वाली आय लाखों रूपयों में होगी। फिलहाल एक अंडा करीब 60 रूपए का खुले बाजार में बिकता है।

कुछ अन्य जानकारी

  1. बटेर जब 5 हफ्ते का हो जाए तो उसे बाजार में बेचा जा सकता है।
  2. बटेर को खाने में अमृत नाम का दाना दिया जाता है, जो करीब 30 रूपए प्ति किलो में मिलता है। इसे हाजीपुर में आसानी से खरीदा जा सकता है।
  3. एक मुर्गी को जितनी जगह चाहिए होती है, उतनी जगह में 8 से 10 बटेरों का आसानी से पाला जा सकता है।
  4. एक बटेर करीब 2 से 2.5 किलो दाना खाने के बाद करीब 300 ग्राम का हो जाता है।
  5. बटेर 6-7 हफ्ते का होने पर अंडे देने लगता है।
  6. मुर्गी में बिमारियां लगने का ज्यादा खतरा रहता है जबकि बटेर में ऐसी संभावना ना के बराबर होती है। बटेर के लिए जगह को साफ सुथरा रखना ज्यादा जरूरी है।
  7. इसे कम जगह में कम लागत और कम समय के साथ आसानी से शुरु किया जा सकता है।

जिनको बटेर के अंडे के बिजनस के लिए सलाह लेने के लिए एक्सपर्ट का नंबर चाहिए, वो हमको अपना पूरा नाम, शहर और गांव के नाम और मोबाइल नंबर लिखकर kisankhabar@gmail.com पर भेज दें।

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

[youtube_channel resource=0 cache=300 random=1 fetch=10 num=1 ratio=3 responsive=1 width=306 display=thumbnail thumb_quality=hqdefault autoplay=1 norel=1 nobrand=1 showtitle=above showdesc=1 desclen=0 noanno=1 noinfo=1 link_to=channel goto_txt=”खेती के लिए बहुत काम आने वाले वीडियो देखने के लिए हमारे Youtube चैनल पर क्लिक करें।”]

Leave a Reply

Your email address will not be published.