Press "Enter" to skip to content

खेत पर बिजली नहीं है, कोई बात नहीं। पंप से पानी फिर भी निकल आएगा

Hits: 4691

अब सोलर पम्प से सिंचाई का प्रचलन

पहले खेत में फसल को पानी देने के लिए पूरी तरह से भगवान भरोसे यानी बारिश पर ही निर्भर रहना पड़ता था। फिर एक जमाना आया जब नदी से निकली नहर के जरिए ही खेतों को पानी मिल सकता था। फिर कुछ इलाकों में कुएं भी काम आने लगे।

इसके बाद 20वीं सदी में बिजली आने के बाद से ट्यूवबैल इत्यादि ने किसानों का काम आसान कर दिया। लेकिन 21वीं सदी में परेशानी ये है कि खेतों पर बिजली नहीं तो फसल को पानी नहीं।

लेकिन अब इस दौर के अंत की भी शुरुआत हो चुकी है। अब नई तकनीक आ गई है यानी सोलर से चलने वाले पंप। अब आपके खेत पर बिजली आए या ना आए, कोई दिक्कत नहीं। बस आपके खेत पर सोलर पंप लगा हो, तो खेतों को पानी मिल ही जाएगा।

बढ़ते तापमान और घटते पानी के स्तर के साथ साथ खेती की लागत बढ़ने से किसान परेशान होता है। ऐसे में सोलर पंप आने से बिजली की बचत तो होगी ही साथ ही किसान अब जब चाहे तब पानी निकाल कर फसलों को दे सकेगा। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश की एक कंपनी ने सोलर पंप लांच किया है।

क्लैरो इनर्जी प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी के ब्रांन्च मैनेजर अजय तिवारी के मुताबिक इस सोलर पम्प में ना तो ईंधन की समस्या रहती है और ना ही किसी भी प्रकार के शार्ट सर्किट का डर। इसके साथ ही इसे बैठे ही चलाया और बंद किया जा सकता है। इससे किसान को बार बार खेतपर आने-जाने की समस्या नहीं होगी।

लागत कम होने की वजह से किसानों के बीच इस तरह का पंप खूब लोकप्रिय हो रहा है।

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

matka khad kaya hoti hai, matka khad kaise banti hai

बहुत ही आसानी से सिर्फ 1 हफ्ते में मुफ्त में घर पर ही बनाएं ‘मटका खाद’, मटका खाद के 6 बड़े फायदे, मटका खाद से बढ़ता है उत्पादन और घटती है लागत (Video देखें)

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

खेती की अच्छी ख़बरें फेसबुक पर पाने के लिए Like करें

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Loading...
WhatsApp chat