जापानी किसान मासानोबू फुकुओका

75 साल से चली आ रही आसान जापानी तकनीक अपनाओ और चावल की खेती से ज्यादा मुनाफा पाओ

इंटरव्यू ताजा ख़बर नई तकनीक विदेश

खेत में ना पानी भरने की जरूरत, ना रासायनिक उर्वरक की और ना ही खेत जोतने की।

जापान में अपने खेत में मासानोबू फुकुओका
जापान में अपने खेत में मासानोबू फुकुओका

जापान के एक किसान (जो कि अब जिंदा नहीं है) मासानोबू ने करीब 65 साल तक चावल की खेती की वो तकनीक अपनाई जिसे दुनिया जानती ही नहीं है। बिना पानी और बिना कीटनाशक के साथ साथ खेत को जोते बिना ही।

हैरत की बात ये कि मासानोबू की जापानी तकनीक में चावल का उत्पादन, परंपरागत तकनीक से ज्यादा होता है। यानी लागत भी कम, मेहनत भी कम और मुनाफा ज्यादा।

खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई चीजें सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।

1913 में पैदा होने वाले मासानोबू ने 2008 में 95 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया। लेकिन मरने से पहले उन्होंने चावल की खेती की अपनी अनोखी तकनीक पर द वन स्ट्रा रिवोल्युशन नाम की एक किताब लिख दी।

टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

इस किताब में मासानोबू ने विस्तार से बताया है कि कैसे बिना पानी, बिना कीटनाशक और खेत को जोते बिना ही आप कैसे ज्यादा उत्पादन कर सकते हैं।

कौन थे मासानोबू

मासानोबू ने वनस्पति विज्ञान में पढ़ाई की थी लेकिन वो कस्टम इंस्पेक्टर के तौर पर नौकरी करते थे। 25 साल की उम्र में ही मासानोबू ने नौकरी छोड़कर खेती शुरु कर दी, जिसे जिन्होंने जिंदगी की अंतिम सांस तक किया।

जापान में अपने खेत में एक पत्रकार के साथ मासानोबू फुकुओका
जापान में अपने खेत में एक पत्रकार के साथ मासानोबू फुकुओका
जापान में अपने खेत में मासानोबू फुकुओका
जापान में अपने खेत में मासानोबू फुकुओका

मासानोबू ने किताब में लिखा कि उनके पड़ोसी के खेत में चावल के पौधे की ऊंचाई अगस्त के महीने में उनकी कमर तक या उससे ऊफर तक आ जाती थी। जबकि उनके खुद के खेत में ये ऊंचाई करीब आधी ही रहती थी। लेकिन फिर भी वो खुश थे क्योंकि उनको मालूम है कि उनका कम ऊंचाई वाला पौधा बाकियों के बराबर या ज्यादा पैदावार देगा।

जापान में अपने खेत में मासानोबू फुकुओका
जापान में अपने खेत में मासानोबू फुकुओका

मासानोबू के मुताबिक आमतौर पर साइज में बड़े पौधे से अगर 1 हजार किलो पुआल निकलता है तो करीब 500 से 600 किलो चावल का उत्पादन होता है। जबकि मासानोबू की तकनीक में 1 हजार किलो पुआल से 1 हजार किलो ही चावल निकलता है। फसल अच्छी रहने पर ये 1200 किलो तक चला जाता है।

मासानोबू की जापानी तकनीक

  1. दरअसल, अगर आप चावल के पौधे को सूखे खेत में उगाते हैं तो ये ज्यादा ऊंचे नहीं हो पाते। कम ऊंचाई का फायदा मिलता है। इससे सूरज की रोशनी पौधे के हर हिस्से पर पड़ती है। पौधे के पत्ते से लेकर जड़ तक सूरज की रोशनी जाती है।
  2. 1 वर्ग इंच की पत्ती से 6 दाने पैदा होने की संभावता ज्यादा बन जाती है। जबकि पौधे के सबसे ऊपरी हिस्से पर आने 3-4 वाली पत्तियों से ही करीब 100 दाने आ जाते हैं।
  3. मासानोबू बीज को थोड़ी ज्यादा गहराई में बोते हैं, जिससे 1 वर्ग गज में करीब 20 से 25 पौधे उगते हैं। इनसे करीब 250 से लेकर 300 तक दानों का उत्पादन हो जाता है।
  4. खेत में पानी नहीं भरने से पौधे की जड़ ज्यादा मजबूत होती है। इससे बिमारियों और कीड़ों से लड़ने में पौधे को काफी मदद मिलती है।
चावल की खेती की आसान और अच्छी तकनीक के बारे में बताते मासानोबू फुकुओका
चावल की खेती की आसान और अच्छी तकनीक के बारे में बताते मासानोबू फुकुओका

जून महीने में मासानोबू करीब 1 हफ्ते के लिए खेत में पानी को जाने से रोक देते हैं। इस फायदा ये मिलता है कि खेत की खतरपतवारें पानी की कमी की वजह से जल्दी मर जाती हैं। इसका फायदा ये होता है कि इससे चावल के अंकुर ज्यादा अच्छे से स्थापित हो पाते हैं।

जापानी किसान मासानोबू फुकुओका
जापानी किसान मासानोबू फुकुओका

पानी निकालने के बाद मेथी में फिर से जान आ जाती है। मासानोबू, मौसम के शुरु में सिंचाई नहीं करते।

अगस्त के महीने में थोड़ा थोड़ा पानी जरूर देते हैं लेकिन उस पानी को वो खेत में रूकने नहीं देते।

इस सबसे बावजूद उनकी इस तकनीक से चावल की पैदावार कम नहीं होती।

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[facebook_likebox url=”http://www.facebook.com/kisankhabar” width=”300″ height=”200″ color=”light” faces=”true” stream=”false” header=”false” border=”true”]

फूलों की खेती से कमाते हैं 50 से 60 हजार रूपये महीना | High income from flowers farming in India

Story क्या है-- फूलों की खेती से एक किसान कैसे 50-60 हजार रूपए महीने गांव में ही कमा रहा है, देखिए पूरी कहानी इस वीडियो में। गांव में 50-60 हजार रूपए की कमाई का मतलब है शहर में करीब 1 लाख रूपए की कमाई।#flowersfarming #youngfarmer #rosefarming #kisan #kisankhabar #agriculture #farming #modernfarming #moderntechnology #farmingtechnology #agriculturefarms #farmingmachine #किसान #गांव #खेतीनीचे दी गई Top प्लेलिस्ट में आपके काम आने वाले एक तरह के सभी वीडियोज़ को अलग अलग ग्रुप में रखा गया है। जैसे कि खेती की ट्रेनिंग से जुड़े वीडियोज़ 'Training ट्रेनिंग ‘ नाम के ग्रुप (प्लेलिस्ट) में मिलेंगे औऱ खेती में जुगाड़ तकनीक वाले वीडियोज़ 'जुगाड़ तकनीक ‘ नाम के ग्रुप (प्लेलिस्ट) में मिलेंगे।खेती में समस्या का समाधान Solution of Agri problems = http://tiny.cc/stem7yKaise Karein कैसे करें How to do = http://tiny.cc/4xem7y Mushroom मशरूम की खेती = http://tiny.cc/bwem7yखेती में नई तकनीक Agriculture Technology = http://tiny.cc/9wem7yTraining ट्रेनिंग = http://tiny.cc/tuem7yDrip Irrigation ड्रिप इर्रिगेशन pani dene ke drip ka Tarika = http://tiny.cc/nyem7yखेती की जुताई करने वाली नई मशीनें Latest Crop Cultivation Local system = http://tiny.cc/7yem7yबीज बौने या पौधा लगाने वाली नई तकनीक Latest Cultivation Machines = http://tiny.cc/lzem7y

फसल की कटाई वाली हैर New Harvesting Machines = http://tiny.cc/2zem7yखेती में चौंकाने वाले प्रयोगों (एक्सपेरीमेंट) के वीडियोज़ = http://tiny.cc/20em7yसफल किसानों की कहानी का वीडियो Successful Farmers = http://tiny.cc/k1em7yदवा छिड़कने वाली मशीनें Spraypump = http://tiny.cc/51em7yजुगाड़ तकनीक Jugaad Technology = http://tiny.cc/0nem7y ड्रोन का खेती में इस्तेमाल Drone in farming = http://tiny.cc/ppem7yपशुपालन Pashupalan = http://tiny.cc/nqem7yट्रैक्टर Tractor = http://tiny.cc/4qem7yगांव में प्रतिभा Village Talent = http://tiny.cc/9tem7yकिसानख़बर KisanKhabar Bulletin = http://tiny.cc/qwem7yविदेशीखेती farming in Foreign = http://tiny.cc/hxem7yखेती में धोखे से सावधान Beware from Fraud in Farming = http://tiny.cc/t0em7yकृप्या हमारे Youtube चैनल को जरूर सब्सक्राइव करें, ताकि आपको हिन्दी भाषा में ऐसे अच्छे वीडियोज़ के मैसेज मोबाइल पर तुरंत मिलते रहे। कृप्या वीडियो को लाइक जरूर कीजिए।1. अगर आपकी जानकारी में ऐसा भी किसान भाई है जो खेती में ऐसा ही कुछ नया कर रहे हैं, तो कृप्या हमको WhatsApp +91.78.2753.8391 पर संपर्क करें।2. अगर ऐसे ही खेती के काम आने वाले रोचक वीडियो आपके पास हैं, तो हमको अपनी और मशीन की पूरी जानकारी के साथ WhatsApp +91.78.2753.8391 करें।====== Social Media A/CsYoutube Channel - https://www.youtube.com/kisankhabarpageFB - https://www.facebook.com/kisankhabarTwitter - https://www.twitter.com/kisankhabarWebsite - https://www.kisankhabar.comAndriod App - http://tiny.cc/ffal7y===== क्या है किसानख़बर.कॉम (KisanKhabar.com) दुनिया की एकमात्र ऐसी वेब, एप और यूट्यूब चैनल हैं, जहां पर खेती से जुड़ी सिर्फ अच्छी खबरों को ही दुनिया के सामने लाया जाता है। किसानों से जुड़ी कुल 14 तरह की समस्याओं का समाधान किसानखबर.कॉम (www.kisankhabar.com) पर मिलता है।KisanKhabar.com is the only portal in Hindi which brings positive news from agriculture field from India and abroad.It brings successful stories of people in farming and tells about new technology in the agriculture field. Apart from this, KisanKhabar.com gives complete details about "how to do" anything in the agriculture field.If you have any interesting story related to farmers/farming/ farming technology etc, please send us to - kisankhabar@gmail.comContact on Phone +91.78.2753.8391 =====

स्टोरी पर कृप्या कॉमेंट करें

Hits: 3094



खेती से जुड़े रोचक वीडियो देखने और नई सीखने के लिए Kisan Khabar के Youtube Channel के नीचे दिए गए लाल रंग के बटन पर जरूर क्लिक करें।



कृप्या फेसबुक लाइक बटन पर क्लिक जरूर करें ताकि आपको खेती की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें आसानी से फ्री में मिल सकें।



टेलीग्राम (Telegram) एप पर खेती-बाड़ी की अच्छी और काम आने वाली ख़बरें रोज फ्री में पाने के लिए ग्रुप को ज्वाइन करें।

30 thoughts on “75 साल से चली आ रही आसान जापानी तकनीक अपनाओ और चावल की खेती से ज्यादा मुनाफा पाओ

  1. 381075 192003Howdy just wanted to give you a brief heads up and let you know several of the pictures arent loading properly. Im not confident why but I believe its a linking problem. Ive tried it in two different internet browsers and both show exactly the same outcome. 91175

  2. 140497 481005View the following guidelines less than and find to know how to observe this situation whilst you project your home business today. Earn funds from home 333779

  3. 221379 5905Hello, Neat post. Theres an concern together together with your website in web explorer, might check this? IE still is the marketplace leader and a huge component to folks will omit your excellent writing because of this problem. 58293

  4. 580213 682790It is a shame you dont have a donate button! Id without a doubt donate to this brilliant blog! I suppose for now ill settle for book-marking and adding your RSS feed to my Google account. I look forward to fresh updates and will share this blog with my Facebook group. Chat soon! 812039

  5. Its such as you read my mind! You seem to know a lot about this, like you wrote the ebook in it or something. I think that you just can do with some percent to force the message home a bit, but instead of that, this is wonderful blog. An excellent read. I will definitely be back.

  6. Generic Tadalafil Best Prices Comparativa Cialis Viagra Levitra Nimotop Online Viagra Consultation Kamagra Barcelona Definicion De La Kamagra

  7. Cialis Mazatlan Mexico Sipreme Suppliers Mumbai India [url=http://cialvia.com]buy generic cialis online[/url] Cost Of Cephalexin Secure Tabs Online Drug Store

  8. 883126 638990I came across this great from you out of sheer luck and never think lucky enough to say also credit you for any job well done. 638487

  9. I have noticed you don’t monetize kisankhabar.com,
    don’t waste your traffic, you can earn additional cash every month with new monetization method.
    This is the best adsense alternative for any type of website (they approve all sites), for more details simply search in gooogle: murgrabia’s tools

Leave a Reply

Your email address will not be published.