June 23, 2016 Solar Plant in Rajasthan

सरकार दे रही पूरा भारी सब्सिडी

अब ये तो सभी को पता चल चुका है कि खेत या गांव में सोलर पंप लगाने के क्या फायदें हैं। इस बात पर कोई बहस भी नहीं है कि सोलर पंप हर लिहाज से बिजली, डीजल और पेट्रोल से चलने वाले उपकरणों के मुकाबले ना केवल बहुत सस्ता बल्कि पूर्ण रूप से सुरक्षित भी है।

<script async src=”//pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js”></script>

<!– KK Sunil Ad no1 –>

<ins class=”adsbygoogle”

style=”display:block”

data-ad-client=”ca-pub-2524861400311440″

data-ad-slot=”2480144412″

data-ad-format=”auto”></ins>

<script>

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

</script>

ऐसे में लोगों की सोलर पंप में दिनों दिन रूचि बढ़ती ही जा रही है। राजस्थान सरकार भी सोलर पंप योजना को लगातार बढ़ा दे रही है। इसके तहत राज्य सरकार किसानों को सोलर पैनल और पंप सेट लगवाने पर अच्छी खासी सब्सिडी भी दे रही है।

ये भी पढ़े – सोलर प्लांट लगाने वाली कंपनियों के नाम और मोबाइल नंबर

मौजूद सोलर प्लांट

किसानों को सोलर पैनल देने के लिए राज्य सरकार निजी कंपनियों की मदद ले रही है। राजस्थान सरकार हर साल दिए जाने वाले कुल सौलर पैनल का लक्ष्य पहले से तय करती है। हर जिले में अलग अलग संख्या होती है। इसके लिए सरकार ने कुछ कंपनियों को किसानों को सब्सिडी वाले सौलर पैनल देने के अधिकृत किया हुआ है।

ये भी पढ़े – सोलर प्लांट लगाने वाली कंपनियों के नाम और मोबाइल नंबर

ऐसे मिलेगा अनुदान का फायदा

राजस्थान सकार ने नए निर्देश दिए हैं। इनके अनुसार अब बिजली का कनेक्शन लौटाने वाले किसानों को सरजार पूरा अनुदान देगी। जबकि अगर किसी किसान के पास ना तो बिजली का कनेक्शन है और ना ही वो डिस्कॉम वरीयता सूची में है, तो उसको सरकार सौलर पैनल लगवाने पर कुल कीमत का 60 प्रतिशत अनुदान देगी।

इंदिरा गांधी नहर परियोजना के तहत जैसलमेर के लिए 205, बीकानेर जिले के लिए 600, हनुमानगढ़ के लिए 173 और श्रीगंगानगर के लिए 538 सौर ऊर्जा पंपसेटों का लक्ष्य रखा गया है।

Click to LIKE it कृप्या लाइक बटन पर क्लिक करें।

Powered by FB Like Lock

Comments

comments

Tagged on:
Orgy