किसान मित्रों, रोजाना किसानखबर.कॉम को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

किसानों को सही, सटीक और काम की खेती की जानकारी देने, नए जमाने की खेती की तकनीक विस्तार से बताने, नए जमाने की नई नई फसलों के बारे में विस्तार से जानकारी और खेती की अच्छाईयों के बारे में (खासतौर पर युवा वर्ग) लोगों को जागरूक करना ही किसानखबर.कॉम का उद्देश्य है। इसकी जबरदस्त सफलता ने अब इसे एक बड़ा मिशन बना दिया है।

यहां दो ऑप्शन्स (Options) हैं – पहला रिपोर्ट बनें (Volunteer / Unpaid) और किसान राइटर (Translation) बनें।

रिपोर्ट बनें (Volunteer / Unpaid)

How to become agriculture Reporterदेश में 638000 गांव है। किसानख़बर.कॉम को हर गांव से एक रिपोर्टर की तलाश है। रिपोर्टर बने और अपने गांव की आवाज सीधे नेताओं के कानों तक कुछ ही पल में किसानख़बर.कॉम के जरीए पहुंचाएं और अपने गांव के साथ खुद को भी तरक्की की राह पर ले जाए। आपके गांव या उसके आसपास के इलाके में कुछ भी ऐसा हो जो किसानों के हित से सीधे ताल्लुक रखता है, तो तुरंत हमको ख़बर करें।

किसान रिपोर्टर बनने के लिए आपको सिर्फ हमको इस नबंर पर अपना नाम, नंबर, शहर और गांव का नाम लिखकर SMS या Whatsapp करना है।आपके गांव में पंचायत चुनाव कैसे रहे, प्रधान ठीक से काम करता है या नहीं, सरपंच आपकी मदद करता है या नहीं, वगैरह वगैरह। जहां कोई अखबार, टीवी या रेडियो ना सही, लेकिन ऐसी ख़बरें आप हमारे जरिए सीधे सरकार तक पहुंचा सकते हैं।

हमारा मोबाइल नंबर – 96432 28457 (ईमेल kisankhabar@gmail.com)

किसान राइटर (Translation) बनें।

करीब 4 लाख किसान वॉट्सअप नेटवर्क से जुड़े हुए हैं और लाखों पेज रोजाना दुनिया के 75 से ज्यादा देशों में पढ़े जाते हैं। अब डिमांड बढ़ रही है कि लोगों को उनकी क्षेत्रीय भाषाओं में भी खेती की खबरें मिलें। इस मिशन से अब आप भी जुड़ सकते हैं ‘Kisan Writer’ (किसान राइटर) बनकर।

कौन जुड़ सकता है।
अगर आप गुजराती, उर्दू, तमिल, तेलूगू, मराठी, मलयालम, कन्नड़, ओडीसी, बंगाली या कोई विदेशी भाषा वॉट्सअप या Computer पर लिख सकते हैं, तो आप किसान राइटर बन सकते हैं।

क्या करना होगा?
आपको किसानखबर.कॉम पर पोस्ट होने वाली हिन्दी की खबरों को क्षेत्रीय भाषा में ट्रांसलेट करना होगा। ये आप पर निर्भर करता है कि महीने में आप कितनी स्टोरी ट्रांसलेट कर सकते हैं। महीने में 1 खबर से लेकर जितनी भी आप चाहे ट्रांसलेट कर सकते हैं। संख्या को लेकर कोई बंदिश नहीं है।

किसान राइटर का फायदा क्या है
4 लाख किसान वॉट्सअप पर किसान नेटवर्क से जुड़े हुए हैं और 75 से ज्यादा देशों में लोग इसे पढ़ते और अच्छी फीडबैक देते हैं। आपकी ट्रांसलेट की हुई खबर के साथ आपका फोटो, नाम, शहर और गांव के नाम के साथ साथ आपका परिचय भी जाएगा। इससे लोग आपको Google में अलग पहचान के साथ जानने लगेंगे और ज्यादा गंभीरता से लेंगे।

दुनिया में राइटर को सबसे ज्यादा सम्मान की नजर से देखा जाता है। खेती के स्टूडेंट्स के लिए ये बहुत कुछ सीखने का जरिया हो सकता है और खेती में गंभीरता से करियर बनाने वालों और खेती में ज्यादा पैसा कमाने वालों को भी बहुत काम आ सकता है। हमारी मौजूदा टीम के सभी सदस्यों ने किसानखबर के लिए लिखते ही नए जमाने की फसल की जानकारी हासिल की और अब ज्यादातर लोग कई फसलों को करके अच्छा पैसा कमा रहे हैं।

क्या कोई पैसा मिलेगा?
किसानखबर.कॉम, किसानों की मदद के लिए शुरु की गई है जिसका उद्देश्य पैसा कमाना नहीं है। हमारी मौजूदा टीम इससे किसानसेवा के तौर पर ही जुड़ी हुई है।

कैसे जुड़ें।
अगर आप किसान राइटर बनने के लिए गंभीरता के साथ इच्छुक हैं, तो नीचे मांगी गई जानकारी kisankhabar@gmail.com पर ईमेल कर दें।

1. अपना पूरा नाम
2. शहर
3. गांव का नाम
4. अपना फोटो
5. आईडी प्रूफ
6. कहां तक पढ़े हैं आप
7. अभी क्या करते हैं
8. आपका ट्विटर या फेसबुक लिंक
9. कौन सी क्षेत्रीय भाषा जानते हैं आप
10. कितनी खबरों को ट्रांसलेट कर सकते हैं हर महीने
11. आपका मोबाइल नबंर
12. आपका दूसरा कोई और नंबर

धन्यवाद

दूसरों के साथ ज्ञान बांटते जाएं, ताकि आपका ज्ञान बढ़ता जाए।

how to join whatsapp farmers' network

Click to LIKE it कृप्या लाइक बटन पर क्लिक करें।

Powered by FB Like Lock

Orgy