June 6, 2016 Farmer Harbir does nursery farming

हरियाणा के हरबीर ने एमए के बाद नौकरी करने के बजाय खेती को चुना

खेती इतनी भी बुरी नहीं है कि जितना इसका नाम खराब कर दिया है। दरअसल, जो भी व्यक्ति थोड़ी बहुत समझ बूझ से और धैर्य से खेती करे, तो हरियाणा के हरबीर सिंह की तरह करोड़ों में कमाई कर सकता है। हरियाणा में खेती से मुनाफा कमाना चौखी कमाई का जरिया बनता जा रहा है। हम आपको कुरुक्षेत्र जिले के एक ऐसे ही किसान से रूबरू करा रहे हैं, जो महज कुछ एकड़ में खेती कर सालाना करोड़ों रुपए की कमाई कर रहा है।

किसान हरबीर के खेत पर काम करते हुए मजदूर
किसान हरबीर के खेत पर काम करते हुए मजदूर

हम बात कर रहे हैं कुरुक्षेत्र जिले के गांव शाहाबाद में रहने वाले किसान हरबीर सिंह की। हरबीर ने मास्टर डिग्री लेने के बाद नौकरी नहीं की और खेती में ज्यादा रूचि दिखाई। इसी का नतीजा है कि आज वे करोड़पति किसान हैं।

 

2005 में हरबीर ने सिर्फ 2 कनाल क्षेत्र (जमीन का एकड़ से भी छोटा हिस्सा) में 1 लाख रूपए की लागत से सब्जियों की नर्सरी लगाई। इससे उन्हें अच्छा-खासा फायदा होने लगा।

उन्होंने इसके बाद और जमीन खरीदी। अब 2015 में 11 एकड़ खेत में हरबीर सिंह की नर्सरी है, जिससे सालाना लगभग 3 करोड़ का लाभ होता है।

 

एडवांस बुकिंग पर ही मिलती है पौध

अपने खेत पर किसान हरबीर
अपने खेत पर किसान हरबीर

क्षेत्र में हरबीर की नर्सरी बहुत मशहूर है। यही वजह है कि एडवांस बुकिंग के बिना हरबीर की नर्सरी से तुरंत पौधा मिल पाना बहुत मुश्किल है।

इंटरनेशनल बी-रिसर्च एसोसिएशन के वो सदस्य भी हैं। साल 2004 में एसोसिएशन की ओर से हरबीर सिंह इंग्लैंड दौरे पर गए थे। नर्सरी के अलावा बहरबीर ने साल 1996 में 5 बॉक्स से मुधमक्खी पालन का काम शुरू किया था। अब वो 470 बॉक्स मधुमक्खी पालन करते हैं।

अपने खेत पर किसान हरबीर
अपने खेत पर किसान हरबीर

हरबीर सिंह के मुताबिक उन्होंने वैज्ञानिक तरीके से खेती शुरु की थी।

उन्होंने टमाटर, गोभी, हरी मिर्च, प्याज, शिमला मिर्च, बैंगन सहित अन्य पौध तैयार की।

पौध अच्छी निकली तो यूपी, हिमाचल, हरियाणा और पंजाब जैसे राज्यों के किसान पौध खरीदने के लिए आने लगे।

पौध को खरीदने से पहले कम से कम 3 दिन पहले एडवांस बुक करवाना पड़ता है। 3 दिन के बाद ही पौध मिल पाता है। इस वजह से हरबीर सिंह के फार्म हाउस पर लोगों की भीड़ लगी रहती है। लेकिन इसी वजह से उनको करोड़ों की कमाई भी होती है।

सैंकड़ों लोगों को दे रहे रोजगार

हरबीर सिंह की नर्सरी में एक-दो नहीं बल्कि 121 महिला- पुरूष काम पर लगे हुए हैं। पिछले साल उन्होंने 4 करोड़ पौध बेचे थे, जबकि इस बार ये लक्ष्य 10 करोड़ पौधे बेचने का है।

Click to LIKE it कृप्या लाइक बटन पर क्लिक करें।

Powered by FB Like Lock

ये भी पढ़े :-

  1. पहली बार खुलासा, क्यों किसान बदहाल, एक्सपर्ट्स और सरकार छुपाते हैं असली वजह
  2. चाहे सूखा पड़े या ज्यादा बारिश, इनकी खेती होती है हमेशा बढ़िया
  3. इजरायली तकनीक अपनाओ तो दूध नहीं फटेगा, फ्रीज की जरूरत नहीं
  4. इजरायल ने क्यों बसाया एक अनोखा गांव
  5. गूगल की शानदार नौकरी छोड़ दी किसान बनने के लिए, अब कमाई है सालाना 16 करोड़ रूपए
  6. किसान बननेे के लिए विदेश में 45 लाख रूपए की नौकरी छोड़कर देश वापस आ गए
  7. जमीन नहीं मिली तो दीवारों पर ही खेती करने लगा ये देश

Comments

comments

Comments

comments

Orgy