पराली जलाने वाले किसानों के लिए सरकार की अनोखी योजना, पराली ना जलाओ और इनाम पाओ, पराली की मशीनों पर 80% सब्सिडी

ताजा ख़बर नई तकनीक सरकारी योजना
पराली की समस्या दिल्ली, पंजाब और हरियाणा राज्य के लिए जी का जंजाल बन चुकी है। इस समस्या से निपटने के लिए अब राज्य सरकारें साम, दाम, दंड, भेद की नीति पर काम करने को मजबूर हैं।
सरकार ने साम यानी किसानों को समझाने की असफल कोशिश की। फिर दंड यानी कानून बनाकर पराली जलाने से रोकने की कोशिश की लेकिन असफल रहे। भेद यानी फूट डालने का काम सरकार इन किसानों में इस मुद्दे पर कर नहीं कर सकती। ऐसे में अब सिर्फ एक ही रास्ता बचता है और वो है दाम यानी पैसे देकर पराली जलाने से रोकना।




पराली की समस्या पर हम पहले ही स्टोरी पोस्ट कर चुके हैं। लेकिन आज की स्टोरी में आप जानेंगे कि सरकार पराली ना जलाने के लिए किसानों को कैसे ईनाम दे रही है। किन मशीनों पर क्या आर्थिक मदद दे रही है।
पराली की समस्या का समाधान खेत में आग लगाना नहीं है। इस समस्या का समाधा कुछ नई हाइटेक मशीनें है जो खेत में पराली को जड़ से ही कुछ ही देर में खत्म कर देती हैं।




सरकारी से ईनाम
इन मशीनों की कीमत अलग अलग राज्यों में अलग अलग है। यह बहुत ज्यादा महंगी भी नहीं है। करीब 40 हजार रूपए में मिलने वाली इन मशीनों पर अब केंद्र सरकार 80 प्रतिशत की आर्थिक मदद दे रही है। यानी 40 हजार रूपए वाली मशीन आपको सिर्फ 8 हजार रूपए में मिल जाएगी।
क्या होना जरूरी है
इसके लिए आपको अपने शहर के कृषि विभाग में संपर्क करना होगा। इस सुविधा का फायदा उठाने के लिए किसान के पास आधार कार्ड का होना सबसे ज्यादा जरूरी है।