माचिस की डिब्बी और नीम बचा सकता है आपके गेंहू को खराब होने से, गेंहूं को बचाने के 6 घरेलू और बहुत ही आसान तरीके, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

Hits: 15622

ज्यादातर किसान, खासतौर पर नए दौर से किसान इस बात लोकर ज्यादा परेशान रहते हैं कि वो गेंहू को खराब होने से कैसे बचाएं। खेत से फसल को काटने के बाद ज्यादातर किसान गेंहू को सीधे स्टोर में या ड्रम्स में रख देते हैं और मान लेते हैं कि गेंहू सुरक्षित हैं, लेकिन जब कुछ दिनों बाद वो ड्रम खोलते हैं तो पाते हैं कि गेंहू को खराब हो रहा है।

ये बहुत ही आम समस्या है। इस इलाज बहुत ही आसान है, जो सैकड़ो-हजारों साल से ना केवल इस्तेमाल हो रहा है बल्कि इसका वैज्ञानिक आधार भी है।




गेंहू खराब होने के मुख्य कारण

  1. नमी वाला गेंहू स्टोर करना यानी बिना सुखाए ही स्टोर कर देना
  2. चूहों के कारण
  3. कीड़ों के कारण

इलाज – पार्ट 1

फसल को काटने के बाद गेंहू को सीधे स्टोर ना करें। गेंहू को पहले अच्छे से और पूरी तरह से सूखने दें।

गेंहू की कटाई के समय एक बात का सबसे ज्यादा ध्यान रखें। वो ये कि गेंहू को महीने की किसी भी रस वाली तारीख पर ना कांटे और ना ही उसको स्टोर करें।

रस वाली तारीख का मतलब है महीने के दिन जैसे ग्यारस, तेरस, चौहदस इत्यादि। इन दिनों में मौसम कुछ इस तरह रहता है कि वो गेंहू के लिए ठीक नहीं होता।




इलाज – पार्ट 2

पहला – धूप में सुखाकर –

ये बहुत ही आसान और आम तरीका है। हालांकि कुछ साल पहले तक शहरों में जब लोग गेंहू खरीदकर घर लाते थे, तो वो इसका इस्तेमाल करते थे। शहरों में तो ये चलन अब समय के साथ खत्म हो गया लेकिन गांव में आज भी ये तरीका इस्तेमाल किया जाता है।

इसमें गेंहू को 1 या 2 दिन के लिए सूखने के लिए खुला छोड़ दिया जाता है। इससे कीटों में होने वाली प्रजनन क्रिया खत्म हो जाती है। अगर अप्रैल-मई महीने की तेज धूप गेंहू को मिल जाए, तो फिर तो कहने ही क्या।

दूसरा –  नीम की पत्तियां –

ये सभी जानते हैं कि नीम के अंदर औषधीयों वाले कितने सारे गुण मौजूद है। नीम गेंहू को भी खराब होने से बचाता है।

नीम को पत्तियों को छांव में सूखाएं। फिर सूखने के बाद इन पत्तियों को गेंहू में मिला दें। इसके बाद ही इनको अनाज रखने वाली पेटी या ड्रम में रखें।

नीम के औषधीय गुण होन के कारण गेंहू को खराब करने वाले कीट और कवक गेंहू से दूर रहते हैं। छोटे छोटे गांव में आज भी ये तरीका इस्तेमाल हो रहा है।

तीसरा – ड्रम की नमी खत्म करें।

गांव देहातों में कहीं कहीं पर दीवारों में बने स्टोर बॉक्स में गेंहू को रखा जाता है और बड़े गांवों या शहर या शहर के नजदीक वाले बड़े बड़े कस्बों में गेंहू को स्टील के बने ड्रम में  गेंहू रखा जाता है।

हर साल नया गेंहू उसमें डालने से पहले स्टोर बॉक्स या ड्रम को बहुत अच्छे ढंग से पूरी तरह से साफ करें। पुराना गेंहू उसमें से पूरी तरह से निकाल दें। नए गेंहू के साथ उसके स्टोर करके ना रखें या मिक्स ना करें।

स्टोर बॉक्स या ड्रम की सफाई इस तरह से हो कि उसके अंदर की नमी पूरी तरह से खत्म हो जाए। अगर नमी बची रह गई, तो वो गेंहू को खराब कर देगी।

चौथा इलाज – माचिस की डिब्बी

माचिस की तिली में फासफोरस लगा होता है। जो कि कीटों को बढ़ने से रोकता है। इसलिए स्टोर बॉक्स या ड्रम में गेंहू के बीच में और सबसे ऊपरी सतह पर 7-8 माचिस की डिब्बी रख दें। 

माचिस की डिब्बी रखने का तरीका –

माचिस को डिब्बी से पूरी तरह से निकाल कर गेंहू में मिक्स ना करें। बल्कि डिब्बी के ढक्कन को उतना ही खोले जितना माचिस की तिली पर लगा फास्फोरस बाहर आ सके। माचिस की डिब्बी को जरूरत से ज्यादा ना रखें।




पांचवा – लहसुन

लहसुन की गंध बहुत तेज होती है। ये इतनी तेज होती है कि कीड़ों को ये पसंद नहीं है और वो इसे दूर से ही सूंध कर अपना रास्ता बदल लेते हैं। इसलिए स्टोर बॉक्स या ड्रम के आसपास लहसुन के कुछ गुच्छे बनाकर रख दें।

छठवां – हल्दी करेगी काम आसान

हल्दी को अगर गेंहू के साथ मिक्स करके रखा जाता है तो ये गेंहू खराब होने से बचाता है। 100 किलो गेंहू में 3 किलो हल्दी मिला सकते हैं। ये खाने के गेंहू में नुकसान भी नहीं देती।

how to join whatsapp farmers' network

[wp-like-lock] your content [/wp-like-lock]

[youtube_channel resource=0 cache=300 random=1 fetch=10 num=1 ratio=3 responsive=1 width=306 display=thumbnail thumb_quality=hqdefault autoplay=1 norel=1 nobrand=1 showtitle=above showdesc=1 desclen=0 noanno=1 noinfo=1 link_to=channel goto_txt=”खेती के लिए बहुत काम आने वाले वीडियो देखने के लिए हमारे Youtube चैनल पर क्लिक करें।”]

News Reporter
वंदना सिंह को पत्रकारिता का 10 साल का अनुभव है

Leave a Reply

Your email address will not be published.